गोरखपुर में इंसेफ्लाइटिस की रोकथाम के लिए नए सिरे से होगी पहल

गोरखपुर में इंसेफ्लाइटिस की रोकथाम के लिए नए सिरे से होगी पहल

इंसेफ्लाइटिस की रोकथाम के लिए अब स्वास्थ्य विभाग नए सिरे से पहल करेगा। 382 निजी डाक्टरों के मोबाइल में एईएस एप डाउनलोड कराया जाएगा। डाक्टर इस बीमारी के लक्षणों वाले मरीजों का डाटा एप पर अपलोड करेंगे। स्वास्थ्य विभाग उनका फालोअप करेगा।

डाक्टरों के मोबाइल में डाउनलोड कराया जाएगा एईएस एप

पिछले साल दिसंबर में यह योजना शुरू की गई थी। 175 निजी डाक्टरों के मोबाइल में अपलोड कराया गया था। 35 डाक्टर नियमित इंसेफ्लाइटिस के लक्षण वाले मरीजों का डाटा अपलोड कर रहे थे। 100 से अधिक मरीजों का डाटा अपलोड हुआ था। इसी बीच कोरोना संक्रमण बढ़ जाने से यह अभियान रुक गया। ओपीडी बंद हो गई। इसे स्वास्थ्य विभाग पुन: शुरू करने की तैयारी कर रहा है। 382 डाक्टरों की सूची बनाई जा चुकी है। शीघ्र ही उनके मोबाइल में एप डाउनलोड करा दिया जाएगा। 2017 के पहले इस बीमारी से प्रति वर्ष बड़ी संख्या में बच्‍चे मर जाते थे। लेकिन सरकार ने इसकी रोकथाम के लिए पहल की और और ब'चों को टीके उपलब्ध कराए गए। इसके बाद मरीजों व मौतों की संख्या में तेजी के साथ कमी आई है।


खत्‍म हो चुकी है जापानी इंसेफ्लाइटिस

जिला मलेरिया अधिकारी डा. एके पांडेय का कहना है कि इंसेफ्लाइटिस के मरीजों की संख्या लगातार कम हो रही है। जापानी इंसेफ्लाइटिस (जेई) तो लगभग समाप्त हो चुकी है। प्रदेश सरकार ने इसकी रोकथाम के लिए अभियान चलाया। बच्‍चों को टीके लगाए गए। इसके बाद यह बीमारी काफी हद तक नियंत्रित हो चुकी है। एक्यूट इंसेफ्लाइटिस सिंड्रोम (एईएस) के मामलों में भी बड़ी कमी आई है। निजी डाक्टरों के सहयोग से इसे भी पूरी तरह नियंत्रित करने का प्रयास किया जा रहा है।


लगातार घट रही मरीजों की संख्या

वर्ष एईएस केस मौत जेई केस मौत

2017 817 114 52 10

2018 435 41 35 02

2019 225 13 35 05

2020 227 13 13 02

2021 20 04 00 00


महंगाई को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार पर भड़की मायावती, बोलीं...

महंगाई को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार पर भड़की मायावती, बोलीं...

देश में लगातार बढ़ती महंगाई को लेकर बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर बड़ा हमला बोला है। उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने बढ़ती महंगाई को लेकर अपनी नाराजगी जाहिर की है और सरकार से मांग की है कि वह महंगाई कम करने पर ध्यान दे, उन्होंने बढ़ती महंगाई के लिए केंद्र के साथ ही राज्य सरकारों को जिम्मेदार माना। ठहराया

मायावती ने केंद्र की नरेंद्र मोदी के साथ ही भाजपा तथा अन्य दलों के शासित राज्य सरकारों पर निशाना साधा है। उन्होंने बढ़ी महंगाई के लिए केंद्र और राज्य सरकार को दोषी ठहराया और कहा कि जरूरी वस्तुओं की कीमतें आसमान छू रही और इसको लेकर हमारी केंद्र के साथ राज्य सरकारों ने ध्यान नहीं दिया।


मायावती ने पेट्रोल तथा डीजल की लगातार बढ़ती कीमतें को लेकर भी केंद्र सरकार को घेरा है। इसको लेकर मायावती ने ट्वीट किया है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि एक तरफ कोरोना प्रकोप से हर प्रकार की जबर्दस्त मार और दूसरी ओर पेट्रोल व डीजल आदि की लगातार बढ़ती हुई कीमत के कारण जरूरी वस्तुओं की महंगाई भी आसमान छू रही है। अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा है कि देश के कई राज्यों में पेट्रोल व डीजल की कीमत लगभग 100 रुपए पहुंच जाने से लोगों में आक्रोश की खबर लगातार मीडिया की सुर्खियों में हैं। जिसनेे लोगों का जीवन दु:खी व त्रस्त कर दिया है, फिर भी केन्द्र व राज्य सरकारें इस ओर ध्यान नहीं दे रही हैं। यह तो बेहद ही दु:खद है। उन्होंने सरकार से मांग की है कि महंगाई कम करने पर ध्यान दें।


बसपा सुप्रीमो मायावती ने कोरोना वायरस से उबरने के लिए मददगार उपकरणों आदि पर जीएसटी कर को कम करने की भी वकालत की है। कोरोना इलाज सम्बंधी उपकरणों आदि पर जीएसटी कर को कम करके न्यायोचित बनाने की तरह ही सरकार महंगाई कम करने पर भी ध्यान दें।


Covid-19: बिहार में ब्लैक फंगस से अब तक 76 की मौत       16 जून से बिहार के लोगों को मिलेगी छूट या बढ़ेगी पाबंदी       बिहार में कोविड-19 से आठ मरीजों की मौत, इतने नए मुद्दे आए सामने       इन इलाकों में होगी भारी बारिश, समय से पहले पहुंचा मानसून       यूपी में आज से रेहड़ी-पटरी दुकानदारों के लिए विशेष टीकाकरण अभियान       महंगाई को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार पर भड़की मायावती, बोलीं...       सीएम योगी का निर्देश, कोरोना संक्रमण को लेकर अभी भी रहें गंभीर       हाल कोडरमा अंचल कार्यालय का, आम आदमी का नहीं हो रहा है कोई काम,आरटीआई कार्यकर्ता ने एसीम को लिखा पत्र       युद्ध के लिए हम तैयार हैं, चीन की सेना PLA ने ताइवान को दी धमकी       धरती पर हैं चार नहीं, पांच महासागर? अंटार्कटिका के पास है कुछ सबसे अनोखा       OMG! इस प्रदेश में कुत्तों से अधिक खूंखार बिल्लियां, अभी तक इतने लोग हुए शिकार       पौष्टिक आहार, पढ़ाई और प्यार, बच्चों के लिए अत्यंत अनिवार्य: शालिनी गुप्ता,  बाल श्रम उन्मूलन दिवस पर पारहो में फूड न्यूट्रिशन किट का किया वितरण        Muslim Lawmaker Ilhan Omar ने US और Israel की तुलना तालिबान से कर डाली       दुनिया के सबसे शक्तिशाली राष्ट्राध्यक्षों की मुलाकात की तैयारियां पूरीं       अमेरिका में फेडरल जज बनने वाले पहले मुस्लिम बने जाहिद कुरैशी       70 दिन बाद कोविड-19 के सबसे कम केस, 24 घंटे में आए 84 हजार मामले, 4002 की मौत       कैसे डोनाल्ड ट्रंप को दी गई दवा कोविड-19 के मरीजों में जगा रही है उम्मीद?       PM मोदी से मुलाकात कर बहुत खुश हुए सीएम योगी, ट्वीट कर कही ये बड़ी बात       राजनाथ सिंह ने किया 'खामोश महामारी' का जिक्र, बोले...       अखिलेश यादव ने कहा कि बंदरबांट में उलझी बीजेपी सरकार से जनता को कोई आशा नहीं