कानपुर की कल्याणपुर में हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के साथी दया शंकर अग्निहोत्री को किया गया गिरफ्तार

कानपुर की कल्याणपुर में हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के साथी दया शंकर अग्निहोत्री को किया गया गिरफ्तार

कानपुर एनकाउंटर के बाद पुलिस एक्शन में हैं. कानपुर की कल्याणपुर में हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के साथी दया शंकर अग्निहोत्री को पुलिस ने हिरासत में लिया है. अग्निहोत्री को कल रात एक एनकाउंटर के बाद हिरासत में लिया गया था.


एनकाउंटर में दयाशंकर के पैर में गोली लगी है. पुलिस व बदमाशों के बीच कल्याणपुर थाना इलाके में यह एनकाउंटर हुई थी. 
आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि कानपुर के चौबेपुर थाना क्षेत्र के बिकरू गांव में गुरुवार रात को कुख्यात क्रिमिनल विकास दुबे व उसके साथियों से एनकाउंटर में आठ पुलिसकर्मी शहीद हो गए थे. शहीदों में सीओ बिल्हौर, एसओ शिवराजपुर के अतिरिक्त दो दरोगा, चार सिपाही शामिल थे. शातिर बदमाशों ने गोलियों के अतिरिक्त बम व कुल्हाड़ी जैसे धारदार हथियारों से पुलिसवालों पर हमला किया था. कई पुलिसवालों के असलहे तक लूट लिए थे. 

विकास दुबे व उसके साथियों ने सीओ बिल्हौर देवेंद्र मिश्र को वीभत्स ढंग से मारा था. हमला होते ही सीओ दीवार कूदकर एक घर में जाकर छिपे थे. बदकिस्मती से ये घर विकास के मामा का था. बदमाशों ने घर में घुसकर दीवार से सटाकर सीओ के सिर पर ताबड़तोड़ कई गोलियां मारीं. पूरा मृत शरीर क्षत-विक्षत कर एक पैर भी काट दिया. घटनास्थल देख हर कोई सहम गया. 

विकास के घर पड़ी दबिश को सीओ देवेंद्र सिंह लीड कर रहे थे. हमला होते ही हर कोई इधर-उधर भागने लगा. सीओ के सामने ही तीन चार सिपाहियों को मार दिया गया. तभी सीओ एक दीवार कूदकर घर में घुस गए. ये घर विकास दुबे के मामा प्रेम प्रकाश पांडेय ( एनकाउंटर में मारा गया, पुराना डकैत) का था. प्रेम प्रकाश ने तुरंत विकास को इसकी जानकारी दी. इसके बाद आठ-दस बदमाश घर में घुसे व सीओ का सिर दीवार से सटाकर उनके सिर पर कई गोलियां दागीं. फिर घसीटकर बाहर ले गए व वहां पर भी गोली मारी. एक पैर भी काट दिया था.