रघुवर दास ने बाइक जुलूस निकाले जाने के मामले में नाेटिस का लिखित जवाब साैंप दिया

रघुवर दास ने बाइक जुलूस निकाले जाने के मामले में नाेटिस का लिखित जवाब साैंप दिया

मुख्यमंत्री सह भाजपा प्रत्याशी रघुवर दास ने बाइक जुलूस निकाले जाने के मामले में नाेटिस का लिखित जवाब साैंप दिया है। सीएम की ओर से चुनाव अभिकर्ता मिथिलेश सिंह यादव ने साेमवार दाेपहर 1.30 बजे धालभूम अनुमंडल में रिटर्निंग अफसर (आरओ) के नाम जवाब साैंपा। निर्वाचन शाखा नाेटिस के जवाब से अभी भी सहमत नहीं है। निर्वाचन शाखा की ओर से सीएम के चुनाव अभिकर्ता काे बाइक जुलूस में शामिल सभी बाइक में भरवाए पेट्राेल और बाइक नंबर के साथ विस्तृत जवाब देने काे कहा गया है।

सुझाव भी दिया है कि बाइक जुलूस का खर्च प्रत्याशी के खाते में दिखाकर फिर से हिसाब जमा करें। सीएम की ओर से अब तक चार बार हिसाब-किताब निर्वाचन शाखा काे जमा किया है। सीएम कैंप की ओर से कहा जा रहा है कि नामांकन से लेकर अब तक चार बार हिसाब दे चुके हैं। तीन क्रम में हिसाब की जांच हाेती है, जिसमें बैंक से पैसे की निकासी, चेक में भुगतान आदि पारदर्शी तरीके से यहां की गई है। लेकिन रवैया सही नहीं है। चुनाव आयाेग के आदेश का पालन किया है, तभी ताे लिखित जवाब दिया।

जमशेदपुर पूर्वी क्षेत्र में पांच दिसंबर की शाम पांच बजे चुनाव प्रचार थम गया था। 6 दिसंबर काे भाजपा प्रत्याशी रघुवर दास के खिलाफ निर्दलीय प्रत्याशी सरयू राय ने चुनाव पर्यवेक्षक से सर्किट हाउस में मुलाकात की और रघुवर पर आचारसंहिता उल्लंघन का आराेप लगाते हुए बाइक जुलूस निकाले जाने की शिकायत दर्ज कराई। कार्रवाई की मांग की। इस पर निर्वाची पदाधिकारी ने रघुवर दास काे नाेटिस जारी कर जवाब साैंपने का आदेश दिया था।

सीएम सह भाजपा प्रत्याशी रघुवर दास के चुनाव अभिकर्ता मिथिलेश सिंह यादव ने कहा कि हमने निर्वाची पदाधिकारी काे नाेटिस का जवाब दे दिया है। बाइक जुलूस नहीं था, भाजपा कार्यकर्ता खुद आए थे बाइक से, अब बाइक में पेट्राेल आदि हमने नहीं भराया है। जवाब साैंप दिया गया है। इससे अधिक नहीं बाेल सकेंगे।

झाविमो ने भाजपा प्रत्याशी सीपी सिंह की शिकायत मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी से किया है। पार्टी केंद्रीय सचिव संतोष कुमार ने आयोग लिखे पत्र में एक निजी चैनल के डिबेट में झाविमो प्रत्याशी सुनील गुप्ता एवं अधिवक्ता सह महानगर महासचिव जीतेंद्र वर्मा पहुंचे थे। उसी वक्त रांची के विधायक सीपी सिंह अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ पहुंचे। परिचर्चा शुरू होते ही भाजपा के कार्यकर्ता सुनील गुप्ता के साथ हुटिंग करने लगे।

जब इसका विरोध झाविमो समर्थकों के द्वारा किया गया तो भाजपा समर्थकों ने सुनील गुप्ता पर जानलेवा हमला कर दिया। इस दौरान जीतेंद्र वर्मा बीच-बचाव करने का प्रयास किया गया तो उनपर भी जानलेवा हमला कर दिया गया। इसकी लिखित शिकायत लालपुर थाने में कराई गई है। लालपुर थाना पुलिस ने इस मामले में सीपी सिंह के कार्यकर्ताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है।