उत्तर प्रदेश पुलिस ने जाने कैसे की क्रिमिनल विकास दूबे की गिरफ्तारी

उत्तर प्रदेश पुलिस ने जाने कैसे की क्रिमिनल विकास दूबे की गिरफ्तारी

उत्तर प्रदेश पुलिस का मोस्ट वांटेड क्रिमिनल विकास दूबे जिस वाहन से उज्जैन पहुंचा उस वाहन पर लखनऊ का नंबर अंकित था. साथ ही वाहन पर उच्च न्यायालय भी लिखा हुआ था. गाड़ी किसी मनोज यादव के नाम पर रजिस्टर्ड है. 


कानपुर में डिप्टी एसपी सहित आठ पुलिसवालों को मृत्यु की नींद सुलाने वाले कुख्यात क्रिमिनल विकास दुबे जिस वाहन से महाकाल मंदिर पहुंचा उस पर लखनऊ का नंबर है. संभावना जताई जा रही है कि उज्जैन पहुंचने में उसके पीछे कुछ अधिवक्ताओं का हाथ है. पूरी तैयारी व प्लानिंग के साथ उसे महाकाल मंदिर पहुंचाया गया.