उत्तर प्रदेश

भाजपा अनुसूचित मोर्चा बैठक हुयी शुरू,जिसमें बीजेपी के 17 अनुसूचित सांसदों और 64 विधायक हुए आमंत्रित

बसपा के दलित वोट बैंक में सेंधमारी करने में समाजवादी पार्टी सफल रही है घोसी उपचुनाव के बाद यही संदेश गया है ऐसे में भाजपा के खेमे में चिंता के बादल छाना तय है दलित वोटर्स को पार्टी की विचारधारा से जोड़ने के लिए दलित नेता क्या कर रहे हैं? वो क्या रणनीति लेकर लोगों के बीच जा रहे हैं

इन्हीं प्रश्नों के साथ भाजपा मुख्यालय पर बैठक बुलाई गई है इसमें प्रदेश के पदाधिकारियों के साथ ही दलित सांसद-विधायकों और स्त्री सांसद, विधायक, मेयर, जिला पंचायत अध्यक्षों को भी बुलाया गया इस बैठक की अध्यक्षता प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी और महामंत्री संगठन धर्मपाल सिंह कर रहे हैं

अनुसूचित मोर्चा के बैठक में विधायक और सांसद मौजूद

भाजपा मुख्यालय पर बीजेपी अनुसूचित मोर्चा की बैठक प्रारम्भ की गई जिसमें भाजपा के 17 अनुसूचित जाति से आने वाले सांसदों और 64 विधायकों को आमंत्रित किया गया है इस बैठक में मोर्चा के ‘ बस्ती संपर्क एवं संवाद कार्यक्रम’ को तेजी से गांव – गांव तक चलाने पर चर्चा की जाएगी दरअसल घोसी उपचुनाव में मिली हार के बाद दलित वोट बैंक को लेकर बीजेपी नेतृत्व चिंतित है ऐसे में बस्ती संपर्क अभियान के जरिए मोर्चा की जिलावार बनाई गई टोलियों के साथ ही सांसद-विधायकों को भी बस्तियों में जाना हैऔर सभी से संपर्क स्थापित करने के साथ ही उनकी समस्याओं को भी सुनना होगा फिर रिपोर्ट तैयार करके पार्टी को देनी है जिसके आधार पर भाजपा अपनी आनें वाले रणनीति तैयार करेगी

दूसरी बैठक होगी भाजपा स्त्री मोर्चा के साथ

बीजेपी की दूसरी बैठक स्त्री मोर्चा की होगी पहले प्रदेश पदाधिकारियों की और फिर स्त्री जनप्रतिनिधियों के साथ आनें वाले अभियान और कार्यक्रमों को लेकर चर्चा की जाएगी बैठक में नारी शक्ति वंदन अधिनियम के जरिए आधी जनसंख्या में पैठ बढ़ाने को लेकर बनी कार्ययोजना पर चर्चा होगी इसके अतिरिक्त स्त्री मोर्चा के पदाधिकारियों और जनप्रतिनिधि को वोटर चेतना अभियान और नव स्त्री मतदाता सम्मेलन सहित अन्य कार्यक्रम के बारे में भी जानकारी दी जाएगी

 

Related Articles

Back to top button