7 दिन में जैश-ए-मोहम्मद के 3 आतंकवादियों को ATS ने किया गिरफ्तार 

7 दिन में जैश-ए-मोहम्मद के 3 आतंकवादियों को ATS ने किया गिरफ्तार 

ATS और सुरक्षा एजेंसियों ने जैश-ए-मोहम्मद से जुड़े 3 आतंकियों को केवल 7 दिन में अरैस्ट किया है. इनमें सहारनपुर के कुंडाकला का मो नदीम भी शामिल है. ATS को नदीम की लोकेशन देवबंद के एक मदरसे में मिली. मदरसे तक वो कुछ खास PDF को पढ़वाने के लिए आता था. फिदायीन हमले से जुड़े डॉक्यूमेंट्स पढ़वाने के लिए वो यहीं क्यों आता था. इन प्रश्नों के उत्तर तलाशने के लिए उत्तर प्रदेश ATS ने उसकी रिमांड ली है. वो यहां किस साथी या स्टूडेंट के संपर्क में था. ये भी एजेंसी को पता करना है. पूछताछ में सामने आया कि नदीम को उर्दू और इंग्लिश, दोनों ही भाषाएं नहीं आती हैं. इसलिए 3 महीने में उसकी 18 बार लोकेशन देवबंद के इस मदरसा में मिली है. संभावना ये भी है कि वो यहां से आतंक क्लासेज भी चला रहा था. कुंडाकलां में यह नदीम के घर की फोटो है. जब से नदीम की गिरफ्तारी हुई है तब से दिनभर यहां आसपास के लोगों की भीड़ लगी रहती है.

12 दिन की मिली रिमांड, आज से शुरू

नदीम का कनेक्शन जैश-ए-मोहम्मद, तहरीक-ए-तालिबान और पाक के TTP से मिला है. नदीम को ATS ने 8 अगस्त की रात को अरैस्ट किया था. लखनऊ की ATS न्यायालय में पेश करके कारागार भेजा गया. अब देवबंद ATS के प्रभारी सुधीर उज्जवल ने न्यायालय में आतंकवादी नदीम की रिमांड के लिए एप्लीकेशन डाली. इसे न्यायालय ने स्वीकार कर लिया है. आरोपी की 12 दिन की रिमांड न्यायालय से मिली है. ये आज से प्रारम्भ हो गई है.

यूपी, बिहार के युवाओं से कनेक्शन
वो यूपी, बिहार सहित सहित कई राज्यों के युवाओं को बरगलाकर आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद और तहरीक-ए-तालिबान, पाक में शामिल करने को दबाव बनाता था. यह पुरुष कौन है और कहां के रहने वाले हैं. ये अभी नहीं पता था. सहारनपुर के गंगोह क्षेत्र के गांव कुंडाकला के नदीम के मोबाइल से एक PDF फाइल भी मिली. इसमें फिदायीन हमले की ट्रेनिंग नदीम को लेनी थी. इसके बाद उसे हमला करना था. हालांकि हमले का आदेश पाक से मिलना था, जो नहीं मिला था.

नदीम, हबीबुल और सबाउद्दीन आमने-सामने लाए जाएंगे
आतंकी नदीम के मंसूबों को पढ़ने के बाद अब आपको उत्तर प्रदेश में तालीम के नाम पर आतंकवादी ट्रेनिंग के बारे में बताते हैं. देवबंद से आजमगढ़ तक स्लीपिंग माड्यूल सक्रिय हैं. लखनऊ हब बनता जा रहा है. जबकि कानपुर ट्रेनिंग सेंटर की तरह उपयोग हो रहा है.

लेकिन इससे पहले आपको बता दें कि ​​​​​​​​​​​​​​UP ATS ने सहारनपुर से अरैस्ट आतंकवादी नदीम और फतेहपुर के हबीबुल का आमना-सामना आजमगढ़ के सबाउद्दीन आजमी से कराने जा रही है. NIA और ATS की स्पेशल न्यायालय ने नदीम और हबीबुल को 12 दिन और सबाउद्दीन को 10 दिन की पुलिस कस्टडी रिमांड दी है.