टोक्यो ओलिंपिक में गोल्‍ड जीतने पर 6 और सिल्वर जीतने पर मिलेंगे 4 करोड़ रुपए, योगी सरकार का ऐलान

टोक्यो ओलिंपिक में गोल्‍ड जीतने पर 6 और सिल्वर जीतने पर मिलेंगे 4 करोड़ रुपए, योगी सरकार का ऐलान

लखनऊ:  यूपी सरकार (UP Government) ने प्रदेश से टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) में स्वर्ण पदक जीतने वाले प्रदेश के एथलीटों को 6 करोड़, रजत पदक जीतने वालों के लिए 4 करोड़ और कांस्य पदक जीतने पर दो करोड़ रुपये देने की घोषणा की है. टोक्यो ओलंपिक में खेलों के पहले दिन मीराबाई चानू (Mirabai Chanu) ने वेटलिफ्टिंग में सिल्वर मेडल जीता था. इसके अतिरिक्त चक्का फेंक (डिस्कस थ्रो) प्रतिस्पर्धा में कमलप्रीत कौर का बेहतर प्रदर्शन देखने को मिला है. उन्होंने फाइनल्स में स्थान बनाई है. कमलप्रीत ने यदि यही प्रदर्शन दोहराया तो एथलेटिक्स में मेडल जीतने वाली वह पहली भारतीय महिला बन जाएंगी.

अब तक के टोक्यो ओलंपिक प्रदर्शन पर एक नजर

टोक्यो ओलिंपिक में देश का प्रतिनिधित्‍व कर रहे भारतीय खिलाड़ियों की प्रतियोगिता में कमलप्रीत कौर ने स्त्रियों की डिस्कस थ्रो प्रतियोगिता में 64 मीटर चक्का फेंककर फाइनल के लिये क्वालीफाई किया. सीमा पूनिया 16वें जगह पर रहने से बाहर हो गईं. पुरुषों की लंबी कूद में श्रीशंकर 7.69 मीटर की छलांग लगाकर 25वें जगह पर रहे और फाइनल्स में स्थान नहीं बना पाये.

बैडमिंटन में पीवी सिंधु महिला एकल के सेमीफाइनल में ताई जु यिंग (चीनी ताइपे) से 18-21, 12-21 से हार गईं. मुक्केबाजी अमित पंघाल पुरुषों के 52 किग्रा वजन वर्ग के प्री क्वार्टर फाइनल में युबेरजेन मार्तिनेज (कोलंबिया) से 1-4 से हार गए. गोल्फ में पुरुषों की पर्सनल स्पर्धा के तीसरे दौर के बाद अनिर्बान लाहिड़ी संयुक्त 28वें और उदयन माने संयुक्त 55वें जगह पर रहे. इसी तरह तीरंदाजी में अतनु दास पुरुषों की पर्सनल प्रतियोगिता के प्री क्वार्टर फाइनल में ताकाहारू फुरूकावा (जापान) से 4-6 से हारकर बाहर हो गईं. निशानेबाजी अंजुम मोदगिल और तेजस्विनी सावंत स्त्रियों की 50 मीटर राइफल थ्री पोजिशन स्पर्धा में 15वें और 33वें जगह पर रहकर फाइनल्स में स्थान नहीं बना पाई.


धर्मेन्द्र प्रधान से स्थिति की स्पष्ट, CM योगी के नेतृत्व में लड़ा जाएगा विधानसभा चुनाव

धर्मेन्द्र प्रधान से स्थिति की स्पष्ट, CM योगी के नेतृत्व में लड़ा जाएगा विधानसभा चुनाव

उत्तर प्रदेश में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश भारतीय जनता पार्टी के चुनावी चेहरा तथा नेतृत्व को लेकर चुनाव प्रभारी धर्मेन्द्र प्रधान ने शुक्रवार को स्थिति स्पष्ट कर दी। भाजपा प्रदेश मुख्यालय में उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव प्रभारी धर्मेन्द्र प्रधान ने बड़ा बयान दिया।

नरेन्द्र मोदी सरकार में शिक्षा, कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने कहा कि 2022 में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में ही लड़ा जाएगा। सीएम योगी आदित्यनाथ ही उत्तर प्रदेश में भाजपा का चेहरा होंगे। प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ही भाजपा की तरफ से मुख्यमंत्री का चेहरा होंगे। प्रधान ने कहा कि भाजपा ने फिलहाल तय किया है कि अपना दल तथा निषाद पार्टी के साथ गठबंधन में 2022 का विधानसभा चुनाव लड़ा जाएगा। इसके साथ ही अन्य दलों से भी वार्ता जारी है। 2022 में भाजपा सहयोगी दलों के साथ मिलकर पीएम मोदी व सीएम योगी के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं के दम पर चुनाव लड़ेगी।


प्रधान ने कहा कि पीएम नरेन्द्र मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ पर जनता का अटूट भरोसा है। 2022 में उत्तर प्रदेश में एक बार फिर से भाजपा व सहयोगी दलों की सरकार बनेगी। सरकार व संगठन के काम व समन्वय के कारण हम जीतेंगे। हम सभी समाज और समुदाय को साथ लेकर चुनाव लड़ेंगे। भाजपा ने इस बीच में बहुत सारी राजनीतिक ताकत को अपने साथ जोड़ा है। इसी दौरान ही हमने सारा चुनाव का ताना बाना बुना है।