हर साल लगता है एक महीने का मेला, गोरखनाथ मंदिर में खिचड़ी चढ़ाने का इतिहास

हर साल लगता है एक महीने का मेला, गोरखनाथ मंदिर में खिचड़ी चढ़ाने का इतिहास

गोरखपुर : राज्य भर में मकर संक्रांति पूरे उत्साह के साथ मनाई जा रही है। हर साल की तरह इस साल भी मकर संक्रांति के पर्व पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखनाथ मंदिर में पहली खिचड़ी भेंट करके पुरानी परंपराओं का पालन करेंगे। पुजारी से राजनेता बने गोरखनाथ मंदिर के पीठाधीश्वर सीएम योगी भी मंदिर परिसर से देश के नागरिकों के लिए प्रार्थना करते हैं और अपनी इच्छाओं का विस्तार करते हैं, जिसे गोरक्षपीठ भी कहा जाता है।

गोरक्षनाथ को खिचड़ी चढ़ाने की परंपरा
मुख्यमंत्री के बाद, नेपाल नरेश द्वारा भेजी गई खिचड़ी को गुरु गोरक्षनाथ को अर्पित किया जाता है। मकर संक्रांति गोरखनाथ मंदिर का मुख्य त्यौहार है। आपको बता दें कि यह मकर संक्रांति का पर्व यूपी, बिहार, नेपाल के लाखों लोग और देश भर के लोग इस धार्मिक स्थान की परिक्रमा करते हैं और गुरु गोरक्षनाथ को खिचड़ी चढ़ाते हैं।

एक महीने तक खिचड़ी का मेला भी लगता है
बाबा गोरक्षनाथ को खिचड़ी चढ़ाने की यह परंपरा सदियों पुरानी है और गुरु गोरखनाथ को समर्पित गोरखनाथ मंदिर में बड़े हर्ष और उल्लास के साथ मकर संक्रांति का यह पर्व मनाया जाता है। मंदिर परिसर में मकर संक्रांति के दिन से एक महीने का खिचड़ी का मेला भी लगता है। इस मेले के दौरान हर रविवार और मंगलवार के दिन का विशेष महत्व है।

गुरु गोरक्षनाथ को खिचड़ी चढ़ाने का इतिहास
ऐसा माना जाता है कि त्रेता युग के दौरान, सिद्ध गुरु गोरक्षनाथ हिमाचल के कांगड़ा जिले में स्थित ज्वाला देवी मंदिर गए। जहां देवी ने गुरु गोरक्षनाथ को भोजन करने के लिए आमंत्रित किया। तामसी भोजन को देखकर, गोरक्षनाथ ने कहा, “मैं भिक्षा में दिए गए चावल और दाल को ही स्वीकार करता हूं।” जिसके लिए ज्वाला देवी ने जवाब दिया, “जाओ और तब तक अक्षयपात्र में चावल और दाल लाओ। मैं चावल और दाल पकाने के लिए पानी उबाल रही हूं।”

इसके बाद गुरु गोरक्षनाथ हिमालय की तलहटी में स्थित गोरखपुर पहुंचे और राप्ती और रोहिणी नदियों के संगम पर अपना भिक्षापात्र रखा और अपनी साधना शुरू की। लोगों ने चावल और दालें डालना शुरू कर दिया, लेकिन इससे अक्षयपात्र नहीं भर पाया।

सालों से खिचड़ी चढ़ाने की परंपरा जारी
लोग इसे गुरु गोरक्षनाथ का चमत्कार मानकर अभिभूत थे। तब से, गोरखपुर में गुरु गोरखनाथ को खिचड़ी चढ़ाने की परंपरा जारी है। हर साल इस दिन, दुनिया भर से श्रद्धालु गुरु गोरक्षनाथ मंदिर में खिचड़ी चढ़ाने आते हैं। सबसे पहले, भक्त मंदिर के पवित्र भीम सरोवर में स्नान करते हैं और वे मंदिर में अनुष्ठान करते हैं।


मकर संक्रांति या संक्रांति, हिंदू कैलेंडर के अनुसार, सूर्य (सूर्यदेव) को समर्पित है। इस दिन, सूर्य सर्दियों के संक्रांति के दौरान धनु से मकर तक की यात्रा शुरू करता है, और गर्म दिनों की शुरुआत का संकेत देता है। इसे कई जगहों पर पूर्व में बिहू, पश्चिम में लोहड़ी, उत्तर में खिचड़ी और तिलवा संक्रांति और दक्षिण में पोंगल जैसे त्योहारों के साथ मनाया जाता है। यह उल्लेख किया जाना चाहिए कि मकर संक्रांति को सभी शुभ घटनाओं की शुरुआत के लिए हिंदू परंपरा में वर्ष का सबसे अच्छा समय माना जाता है। यह भी कहा जाता है कि भीष्म पितामह ने अपने इच्छामृत्यु के लिए इस समय की प्रतीक्षा की थी।


UP में अब दो दिन ही होगा काम, लगेगी सेकेण्ड डोज

UP में अब दो दिन ही होगा काम, लगेगी सेकेण्ड डोज

लखनऊ: प्रदेश में शुरू हुए कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर आज राज्य सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया। फैसले में कहा गया है कि प्रदेश में कोरोना वैक्सीनेशन का कार्य अब सप्ताह में दो दिन गुरुवार एवं शुक्रवार को ही किया जाएगा । पहले चरण के वैक्सीनेशन के तहत अगले तीन सप्ताह में सभी हेल्थ वर्कर्स का कोरोना वैक्सीनेशन का कार्य पूरा कर लिया जाएगा । 15 फरवरी से पहले चरण में वैक्सीनेट लोगों को कोरोना वैक्सीन की सेकेण्ड डोज देने का काम शुरू किया जाएगा।

कोरोना वैक्सीनेशन के द्वितीय चरण की तैयारी
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि कोरोना की वैक्सीन आ जाने के बाद भी हमें कोविड-19 के प्रति सतर्कता बरतनी होगी। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के वैक्सीनेशन कार्य को केंद्र सरकार की गाइडलाइन्स तथा क्रम के अनुरूप संचालित किया जाए। उन्होंने कोरोना वैक्सीनेशन के द्वितीय चरण के अभियान की सभी तैयारियां समय पर सुनिश्चित करने है ।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोविड-19 के प्रसार को रोकने में कोविड टेस्ट की महत्वपूर्ण भूमिका है। उन्होंने कहा कि सर्विलांस सिस्टम तथा कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग का कार्य प्रभावी ढंग से जारी रखा जाए। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि प्रतिदिन कोविड-19 के कम से कम 1.50 लाख टेस्ट अवश्य किए जाएं।

कोरोना के प्रति लोगों को सतत जागरूक करने के निर्देश
मुख्यमंत्री ने कहा कि आरोग्य मेलों में एन्टीजन टेस्ट की पर्याप्त व्यवस्था करने के साथ ही आरोग्य मेलों में आयुष्मान भारत योजना तथा मुख्यमंत्री जन आरोग्य अभियान के सम्बन्ध में लोगों को जानकारी प्रदान की जाए तथा पात्र लाभार्थियों को इन योजनाओं के गोल्डन कार्ड भी वितरित किए जाएं। उन्होंने कहा कि कोरोना के प्रति लोगों को सतत जागरूक किया जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड चिकित्सालयों में सभी आवश्यक दवाओं, मेडिकल उपकरणों तथा बैकअप सहित ऑक्सीजन की पर्याप्त उपलब्धता बनाए रखी जाए। सभी सरकारी तथा निजी अस्पतालों में फायर सेफ्टी के सम्बन्ध में जरूरी प्रबन्ध सुनिश्चित किए जाएं। उन्होंने ‘102’ तथा ‘108’ एम्बुलेंस सेवाओं का सुचारु और प्रभावी संचालन सुनिश्चित करने तथा जरूतमंदों को एक निश्चित समय में एम्बुलेंस सेवा उपलब्ध करने को कहा है।


Bigg Boss 14: शो से निकलते ही दुखी हुए एजाज खान के फैंस       फिल्मों में हीरो बनने आए थे जाकिर हुसैन, विलेन बनकर बनाई अपनी खास पहचान       The Family Man 2, आर्या 2 और दिल्ली क्राइम 2 समेत ओटीटी पर रिलीज़ होंगे इन सीरीज़ के सीक्वल       Aamir Ali ने ‘मिस्ट्री गर्ल’ पर तोड़ी चुप्पी, बोले...       Kapil Sharma ने जया प्रदा से जाहिर की दिल की बात, कहा...       Bigg Boss 14: घरवालों की नज़रों के सामने से ‘बिग बॉस’ ने छीन लिया उनका राशन       Bigg Boss 14 : SHOCKING! विकास गुप्ता के बाद अब एजाज़ ख़ान घर से बाहर       Bigg Boss 14: देवोलीना भट्टाचार्य सलमान खान से सहमत नहीं       सियासत की गहराई छूने से चूकी सितारों की भव्यता में डूबी प्राइम की वेब सीरीज़ 'तांडव', पढ़ें पूरा रिव्यू       Tandav Web Series से सियासत में उबाल, एमपी सरकार के मंत्री ने अमेज़न CEO को ख़त लिखकर दी यह चेतावनी       इस एक्ट्रेस ने सोशल मीडिया पर शेयर कीं तस्वीरें, पति अनस को लेकर कही ये बात       'धाकड़' बनकर कंगना रनोट मचा रहीं क़त्ले-आम, इस तारीख़ को सिनेमाघरों में होगी रिलीज़       लाइगर बन दहाड़े 'अर्जुन रेड्डी' विजय देवरकोंडा, करण जौहर ने जारी किया फ़र्स्ट लुक       Tandav Web Series से जुड़े 96 लोगों के ख़िलाफ़ बिहार की अदालत में शिकायत       सूचना प्रसारण मंत्रालय से विमर्श के बाद निर्देशक अली अब्बास ज़फ़र ने बिना शर्त मांगी माफ़ी       तीसरे दिन का खेल समाप्त, ऑस्ट्रेलिया के मिली 54 रन की बढ़त       पहले टेस्ट मैच में इंग्लैंड ने श्रीलंका को रौंदा, जो रूट ने ठोका दोहरा शतक       जानिए किस टूर्नामेंट का आयोजन पहले कराना चाहते हैं BCCI बॉस सौरव गांगुली       सातवें विकेट के लिए सुंदर और शार्दुल ने की दमदार साझेदारी, सातवें आसमान पर टीम के हौसले       सुरेश रैना को IPL 2021 के लिए CSK रीटेन करेगी या नहीं इस पर बना सस्पेंस