उत्तर प्रदेश

यूपी बोर्ड रिजल्ट 2024 : यूपी बोर्ड की इंटरमीडिएट परीक्षा में इस वर्ष रिकॉर्ड परीक्षार्थी ससम्मान हुए पास

उत्तर प्रदेश बोर्ड की इंटरमीडिएट परीक्षा में इस वर्ष रिकॉर्ड परीक्षार्थी ससम्मान पास हुए हैं. 2024 की इंटरमीडिएट परीक्षा के लिए दर्ज़ 25,78,007 परीक्षार्थियों में से 24,52,830 परीक्षा में शामिल हुए थे. इनमें से 20,26,067 परीक्षार्थियों को कामयाबी मिली है. सफल परीक्षार्थियों में से 2,18,682 यानी 10.79 फीसदी ससम्मान पास हुए हैं. पिछले वर्ष 8.25 फीसदी, 2022 में 5.52 फीसदी जबकि 2020 में 3.41 फीसदी विद्यार्थी ससम्मान पास हुए थे. इस प्रकार ससम्मान पास होने वाले परीक्षार्थियों की संख्या में लगातार वृद्धि दर्ज की जा रही है. प्रथम श्रेणी में पास होने वाले परीक्षार्थियों की संख्या में भी इस बार वृद्धि हुई है. इस वर्ष 7,90,254 (39 प्रतिशत) प्रथम श्रेणी में पास हुए हैं जबकि 2023 में 7,02,295 (36.17 फीसदी) परीक्षार्थी प्रथम श्रेणी में पास हुए थे.

40.90 प्रतिशत विद्यार्थियों को सेकेंड डिवीजन
इंटर में 8,28,581 (40.90 प्रतिशत) परीक्षार्थियों को द्वितीय श्रेणी में कामयाबी मिली है. द्वितीय श्रेणी में पास होने वालों की संख्या में कमी आई है. पिछले वर्ष 8,43,103 (43.42 प्रतिशत) परीक्षार्थियों को द्वितीय श्रेणी में कामयाबी मिली थी. 2022 में 42.49 फीसदी विद्यार्थियों को सेकेंड डिवीजन मिला था. 2020 की परीक्षा में 53.62 फीसदी परीक्षार्थी द्वितीय श्रेणी के साथ पास हुए थे.

3.56 फीसदी को मिली तृतीय श्रेणी
2024 की इंटर परीक्षा में 72036 (3.56 प्रतिशत) परीक्षार्थी तृतीय श्रेणी में सफल हुए हैं. 2023 में इंटर के 87424 (4.50 प्रतिशत) परीक्षार्थी जबकि 2022 में 4.15 प्रतिशत तृतीय श्रेणी के साथ पास हुए थे. 2020 में 6.55 फीसदी तृतीय श्रेणी में पास हुए थे.

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश बोर्ड हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की वार्षिक परीक्षा 2024 का आयोजन 22 फरवरी 2024 से 9 मार्च 2024 तक किया गया था. वहीं उत्तरपुस्तिकाओं के मूल्यांकन का कार्य 16 मार्च से 31 मार्च 2024 तक मात्र 12 कार्य दिवसों में पूरा कर लिया गया है. इस वर्ष हाईस्कूल और इंटर परीक्षा में करीब 55 लाख विद्यार्थियों ने रजिस्ट्रेशन कराया था. सबसे तेज परिणाम देने वाले बोर्डों की श्रेणी में अब उत्तर प्रदेश बोर्ड भी शामिल हो गया है.

Related Articles

Back to top button