वेलिंटन टेस्ट में इस भारीतय खिलाड़ी ने खेला शानदार पारी, बनाई एकमात्र फिफ्टी

वेलिंटन टेस्ट में इस भारीतय खिलाड़ी ने खेला शानदार पारी, बनाई एकमात्र फिफ्टी

टीम इंडिया वेलिंटन टेस्ट में प्रयत्न कर रही है। टीम को पहली पारी में 183 रन से पिछड़ने के बाद मजबूत आरंभ की आवश्यकता थी, लेकिन पृथ्वी शॉ केवल 27 के स्कोर पर ही आउट हो गए। लेकिन मयंक अग्रवाल (Mayank Agarawal) ने न केवल सारे सत्र में बल्लेबाजी की, लेकिन अपनी फिफ्टी भी पूरी की जो टीम के लिए मैच में पहली व एकमात्र फिफ्टी थी।

टीम इंडिया पहली पारी में 165 पर ही आउट हो गई थी। इस पारी में हिंदुस्तान की ओर से एक भी फिफ्टी नहीं लग सकी थी। सबसे ज्यादा रन अजिंक्य रहाणे ने बनाए थे। वे 44 के व्यक्तिगत स्कोर पर आउट हुए थे। उनके बाद मयंक ही दूसरे सबसे ज्यादा बनाने वाले खिलाड़ी थे, उन्होंने इस पारी में 34 रन की पारी खेली थी।  

मयंक ने पहले पृथ्वी के साथ संभल के बैटिंग की इसके बाद उन्होंने पुजारा के साथ भी विकेट बचाने पर ध्यान दिया, लेकिन जल्दी ही उन्होंने गियर बदला व रन बनाने की गति बढ़ा दी। उन्होंने खास तौर पर एजाज पटेल को निशाना बनाया। एजाज को उन्होंने छक्का लगाकर उनके पहले ओवर में 10 रन निकाले।  

मयंक ने एजाज के अगले (27वें) ओवर में चौका लगाकर अपने करियर की चौथी फिफ्टी पूरी की व फिर चायकाल तक अपना विकेट बचाए रखा। लेकिन मयंक अपनी पारी को लंबी नहीं खींच सके। वे 58 के व्यक्तिगत स्कोर पर टिम साउदी की गेंद पर विकेट के पीछे वॉटलिंग को कैच देकर पवेलियन लौट गए।  

मयंक अब तक अपने 10 टेस्ट के छोटे से करियर में तीन शतक लगा चुके हैं। अभी तक उनका औसत 55.94 का है व वे 964 रन बना चुके हैं। कर्नाटक के इस बल्लेबाज ने अब तक फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 11 शतक भी लगाए हैं।