टीम इंडिया के लिए खेले इस खिलाड़ी के बेटे का भी टीम में सेलेक्शन

टीम इंडिया के लिए खेले इस खिलाड़ी के बेटे का भी टीम में सेलेक्शन
  • भारत के लिए दो वन डे मैच खेलने वाले आरपी सिंह के बेटे हैरी सिंह
  • हैरी सिंह हिंदुस्तान के लिए नहीं बल्कि इंग्लैंड की अंडर 19 टीम के लिए चुने गए
  • श्रीलंका के विरूद्ध होने वाली सीरीज में इंग्लैंड की ओर से खेलते दिखेंगे हैरी

Harry Singh : क्रिकेट में अपने पिता के पदचिह्नों पर चलते हुए कई खिलाड़ियों ने टीम में  अपनी स्थान बनाई. हालांकि कुछ ही क्रिकेटर ऐसे हो पाए, जो अपने पिता की तरह भारतीय टीम के लिए क्रिकेट खेले और उन्हीं की तरह नाम भी कमाने में सफल हुए. अब एक और पूर्व भारतीय खिलाड़ी के बेटे का सेलेक्शन टीम के लिए हो गया है. उनका नाम है हैरी सिंह. हैरी सिंह पूर्व तेज गेंदबाज आरपी सिंह के बेटे हैं और वे श्रीलंका के विरूद्ध होने वाली अंडर 19 टीम के लिए चुन लिए गए हैं. हालांकि खास बात ये है कि हैरी सिंह टीम इण्डिया के लिए नहीं बल्कि इंग्लैंड की अंडर 19 टीम के लिए चुने गए हैं. जी हां, हैरी सिंह इंग्लैंड के लिए क्रिकेट खेलते हुए दिखाई देंगे. इतना ही नहीं आरपी सिंह एक तेज गेंदबाज की हैसियत से टीम इण्डिया के लिए खेलते थे, लेकिन हैरी सिंह बल्लेबाज हैं. इस समय हैरी सिंह लंकाशायर के लिए खेलते हैं और टीम के सलामी बल्लेबाज की हैसियत से पारी की आरंभ करने के लिए आते हैं. 

कपिल देव की कप्तानी में वर्ष 1986 में किया था डेब्यू 

आरपी सिंह ने टीम इण्डिया के लिए उस समय खेलना प्रारम्भ किया था, जब कपिल देव हिंदुस्तान के लिए खेला करते थे. यूपी के रहने वाले आरपी सिंह ने वर्ष 1986 में टीम इण्डिया के लिए डेब्यू किया था. ऐसा नहीं है कि हैरी सिंह ऐसे पहले खिलाड़ी हैं, जो भारतीय मूल के होने के बाद भी इंग्लैंड की ओर से क्रिकेट खेल रहे हैं, ऐसे कई खिलाड़ी हुए और अभी भी इंग्लैंड के लिए खेल रहे हैं. हैरी सिंह ने घरेलू क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन किया है, उसके बाद उन्हें अंडर 19 टीम से खेलने का मौका मिला है. आरपी सिंह सीनियर ने द भारतीय एक्सप्रेस से बोला कि कुछ ही दिन पहले उन्हे ईसीबी की ओर से टेलीफोन आया और उन्हें बताया गया कि उनके बेटे का चयन अंडर 19 इंग्लैंड टीम के लिए हो गया है. यदि सब कुछ ठीक ठाक रहा तो हैरी सिंह श्रीलंका के विरूद्ध खेलते हुए दिखाई देंगे. 

भारत के लिए सिर्फ दो ही वन डे मैच खेल पाए आरपी सिंह 
आरपी सिंह का क्रिकेट करियर हालांकि बेहद लंबा नहीं था. उन्होंने वर्ष 1986 में ही डेब्यू किया और उसी वर्ष उन्होंने अपना अंतिम मैच भी खेल लिया. कपिल देव की कप्तानी में उन्हें सिर्फ दो ही वन डे मैच खेलने का अवसर मिला. लेकिन इसमें वे कोई भी विकेट नहीं ले पाए. हालांकि घरेलू क्रिकेट में वे लंबे समय तक खेलते हुए दिखाई दिए थे.  उन्होंने 59 प्रथम श्रेणी मैच खेले और 21 लिस्ट ए भी खेले. आरपी सिंह ने एक ब्रिटिश नागरिक से विवाह की और उसके बाद वहीं पर बस गए. अब देखना दिलचस्प होगा कि आरपी सिंह के बेटे हैरी सिंह अपनी टीम इंग्लैंड के लिए अंडर 19 में कैसा प्रदर्शन करते हैं. साथ ही यदि उन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया तो वे इंग्लैंड की सीनियर टीम के लिए भी खेलते हुए दिख सकते हैं. ये काफी दिलचस्प होगा.