पाक के पूर्व कैप्टन जावेद मियांदाद ने की फांसी की सजा को लेकर यह बड़ी मांग

पाक के पूर्व कैप्टन जावेद मियांदाद ने की फांसी की सजा को लेकर यह बड़ी मांग

पाक (Pakistan) के पूर्व कैप्टन जावेद मियांदाद (Javed Miandad) ने क्रिकेट में बढ़ते भ्रष्ट्राचार को लेकर बड़ा बयान दिया है। जावेद के मुताबिक एक क्रिकेटर के लिए फिक्सिंग से बड़ा कोई अपराध नहीं हो सकता। 

जावेद का बयान तब आया है जब देश में करप्शन में शामिल खिलाड़ियों को टीम में फिर से स्थान देने की बात चल रही है। हालांकि पाक के पूर्व बल्लेबाज ने न सिर्फ इससे मना किया बल्कि यहां तक कह डाला कि ऐसे खिलाड़ियों को फांसी की सजा दी जानी चाहिए।

मियांदाद ने की फांसी की  सजा की मांग
अपने यूट्यूब चैनल पर बात करते हुए मियांदाद (Javed Miandad) ने कहा, 'स्पॉट फिक्सिंग में शामिल क्रिकेटरों को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए।  दोषियों को फांसी पर चढ़ा दिया जाना चाहिए, क्योंकि यह अपराध उतना ही बड़ा है, जितना कि किसी का खून करना। ऐसे में सजा भी एक जैसी होनी चाहिए। किसी की मर्डर करने के मुद्दे में फांसी की सजा होती है ऐसे में इसे लिए भी यही सजा होनी चाहिए। ऐसा उदाहरण पेश किया जाना चाहिए जिससे कोई खिलाड़ी इसके बारे में सोच भी ना सके। मियांदाद ने आगे कहा, 'यह बात इस्लाम में सिखाई गई बात के विरूद्ध है व इसको इसी तरह से लेना चाहिए। '

उन्होंने आगे कहा, 'मुझे लगता है कि जो खिलाड़ी इसके दोषी होते हैं वो अपने परिवार व मां-बाप के साथ भी अच्छे नहीं होते हैं अगर ऐसा होता तो वो ऐसे गलत कार्य नहीं करते। वो आध्यात्मिक तौर पर गलत करते हैं। ऐसे लोगों को जिंदा रहने का अधिकार नहीं है। '

शाहिद अफरीदी ने भी की थी कड़ी सजा की मांग
इससे पहले शाहिद अफरीदी (Shahid Afridi) भी इसको लेकर अपनी बात रख चुके हैं। वह भी मियांदाद की सोच का समर्थन करते है। अफरीदी का मानना है कि पाक क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) अगर इसको लेकर पहले सख्ती से पेश आता, तो ऐसा नहीं होता। अफरीदी का मानना है कि पीसीबी को इस मुद्दे में उदाहरण सेट करना चाहिए था, जिससे कोई क्रिकेटर ऐसा ना करे।