एमएसके प्रसाद की अध्यक्षता वाली सीनियर चयन समिति अब भारतीय टीम का नहीं करेगी चयन

एमएसके प्रसाद की अध्यक्षता वाली सीनियर चयन समिति अब भारतीय टीम का नहीं करेगी चयन

एमएसके प्रसाद की अध्यक्षता वाली सीनियर चयन समिति अब भारतीय टीम का चयन नहीं करेगी। अब इस चयन समिति का कार्यकाल समाप्त हो गया है। बीसीसीआई की 88वीं वार्षिक आम मीटिंग (एजीएम) के बाद सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने यह बात कही। बीसीसीआई की एजीएम रविवार को मुंबई में हुई। इसमें कई अहम निर्णय हुए। एजीएम ने बीसीसीआई (BCCI) के संविधान संशोधन को भी मंजूरी दे दी, ताकि सौरव गांगुली व अन्य पदाधिकारियां का कार्यकाल बढ़ाया जा सके।  

एमएसके प्रसाद व गगन खोड़ा (MSK Prasad, Gagan Khoda) 2015 में चयनकर्ता नियुक्त किए गए थे। जतिन परांजपे (Jatin Paranjpe), संदीप सिंह (Sarandeep Singh) व देवांग गांधी (Devang Gandhi) 2016 में उनके साथ जुड़े थे। सौरव गांगुली ने बोला कि इस पैनल का कोई भी मेम्बर अब अपना कार्य आगे जारी नहीं रखेगा। उन्होंने बोला कि अब चयन समिति का कार्यकाल निर्धारित होगा व हर वर्ष चयनकर्ता नियुक्त करने की आवश्यकता नहीं होगी।  

:

बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने रविवार को कहा, ‘कार्यकाल खत्म हो गया है। आप इससे आगे नहीं जा सकते हैं। उन्होंने अच्छा कार्य किया है। अब हम चयन समिति का कार्यकाल निर्धारित करेंगे व हर वर्ष चयनकर्ता नियुक्त करना ठीक नहीं है। ’  बता दें कि युवराज सिंह, हरभजन सिंह समेत कई क्रिकेटर व पूर्व क्रिकेटर मौजूदा चयन समिति के कार्य पर सवाल उठा चुके थे। भज्जी ने तो ट्वीट कर सौरव से इस मुद्दे में हस्तक्षेप की अपील की थी।  

एजीएम में निर्णय लिया गया कि बीसीसीआई के सचिव जय शाह आईसीसी की सीईसी बैठकों में भाग लेंगे। बोर्ड के एक ऑफिसर ने कहा, ‘जय शाह आईसीसी की सीईसी की बैठकों में भाग लेंगे। हालांकि, अभी यह निर्णय नहीं लिया गया है कि आईसीसी बोर्ड की मीटिंग में कौन देश का अगुवाई करेगा। ’