टीम इंडिया की ताकत ही बन गई सबसे बड़ी कमजोरी

टीम इंडिया की ताकत ही बन गई सबसे बड़ी कमजोरी

भारतीय टीम इस समय बहुत ही खराब दौर से गुजर रही है, क्योंकि भारतीय टीम को बांग्लादेश के विरूद्ध भी वनडे सीरीज में 2-0 से हार का सामना करना पड़ा है इससे पहले टीम इण्डिया को न्यूजीलैंड के विरूद्ध सीरीज 1-0 से गंवानी पड़ी थी भारतीय टीम बहुत ही खराब प्रदर्शन कर रह रही है ऐसे में हिंदुस्तान में होने वाले वनडे वर्ल्ड कप के लिए उसकी मुश्किलें बढ़ सकती हैं टीम इण्डिया की हार में कई अहम कारण रहे, लेकिन टीम इण्डिया के तीन स्टार बल्लेबाज बड़े मौकों पर बुरी तरह से फ्लॉप रहे हैं कभी ये तीन बल्लेबाज टीम इण्डिया की बड़ी ताकत रहे हैं, लेकिन आज कमजोरी बन गए हैं आइए जानते हैं, इनके बारे में 

खराब फॉर्म से जूझ रहे ये प्लेयर्स 

साल 2017 से वर्ष 2019 तक टीम इण्डिया के लिए विराट कोहली, शिखर धवन और रोहित शर्मा ने कमाल का प्रदर्शन किया था इन वर्षों में कोहली ने बल्ले से जहां 17 वनडे शतक, तो वहीं रोहित शर्मा ने 18 शतक लगाए थे धवन ने भी कई अहम मौकों पर टीम इण्डिया को जीत दिलाई है लेकिन वर्ष 2020 के बाद इन तीनों कद्दावर खिलाड़ियों का बल्ला रूठ गया है जब भी टीम इण्डिया को आवश्यकता होती है ये प्लेयर आउट होकर पवेलियन लौट जाते हैं जिससे बाद के आने वाले बल्लेबाजों पर दबाव बढ़ जाता है और टीम इण्डिया की बल्लेबाजी ताश के पत्तों की तरह बिखर जाती है 

नहीं लगा पाए शतक 

साल 2020 के बाद से ही शिखर धवन (Shikhar Dhawan) और विराट कोहली (Virat Kohli) वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट में एक भी शतक नहीं लगा पाए हैं केवल रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ही एक सेंचुरी जड़ पाए हैं भारतीय बल्लेबाजी इन तीनों ही बल्लेबाजों के ऊपर ही काफी हद तक टिकी हुई है जब टॉप ऑर्डर अच्छा प्रदर्शन अच्छा प्रदर्शन करता है, तो भारतीय टीम को जीत नसीब होती है अन्यथा शर्मनाक हार का सामना करना पड़ता है 

वनडे वर्ल्ड कप में ना बन जाए चुनौती 

अगर ये तीनों ही खिलाड़ी वनडे वर्ल्ड कप से पहले अपनी लय नहीं पाते हैं, तो टीम इण्डिया की कठिनाई बढ़ सकती है रोहित शर्मा और शिखर धवन के ऊपर भारतीय टीम को मजबूत आरंभ दिलाने की अहम जिम्मेदारी है, लेकिन वह इसमें सफल नहीं हो पा रहे हैं यदि हिंदुस्तान को तीसरी बार वनडे वर्ल्ड कप की ट्रॉफी अपने नाम करनी है, तो रोहित, शिखर और विराट कोहली को सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजी करनी होगी