सानिया इतने वर्ष से ज्यादा के ब्रेक के बाद कोई टेनिस टूर्नामेंट खेल रही

सानिया इतने वर्ष से ज्यादा के ब्रेक के बाद कोई टेनिस टूर्नामेंट खेल रही

भारत की स्टार टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा अपनी यूक्रेन की पार्टनर नादिया किचेनोक के साथ मिलकर होबार्ट इंटरनेशनल के विमेंस डबल्स के फाइनल में पहुंच गई हैं.

 दोनों ने सेमीफाइनल में स्लोवेनिया की जमारा जिदांसेक व चेक गणराज्य की मारी बूजकोवा की जोड़ी को हराया. सानिया दो वर्ष से ज्यादा के ब्रेक के बाद कोई टेनिस टूर्नामेंट खेल रही हैं व इस दौरान उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया है. सानिया व किचेनोक ने सेमीफाइनल मुकाबला 7-6 (3), 6-2 से अपने नाम किया.

सानिया पहले इंजरी व फिर मेटेरनिटी ब्रेक पर थीं. अप्रैल 2018 में उन्होंने बेटे इजहान को जन्म दिया था. इस टूर्नामेंट के दौरान वो अपने बेटे इजहान के साथ ही आई हैं. सानिया ने पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब मलिक से विवाह की थी. इससे पहले किचेनोक के साथ सानिया ने अमेरिका की वानिया किंग व क्रिस्टिना मैकहेल को एक घंटे 24 मिनट तक चले क्वॉर्टर फाइनल मैच में 6-2, 4-6, 10-4 से मात दी थी.

सानिया ने अक्टूबर 2017 में आखिरी टूर्नामेंट खेला था. भारतीय टेनिस को नयी बुलंदियों तक ले जाने वाली सानिया डबल्स में नंबर एक रह चुकी हैं व छह बार की ग्रैंडस्लैम विजेता हैं. उन्होंने 2013 में एकल टेनिस खेलना छोड़ दिया था. वो 2007 में डब्ल्यूटीए सिंगल्स रैंकिंग में 27वें जगह तक पहुंची थीं. अपने करियर में वो लगातार कलाई व घुटने की चोट से जूझती रही हैं.