रोहित शर्मा की मैच की कहानी जानकर आप उड़ जायेंगे होश, पढ़े

रोहित शर्मा की  मैच की कहानी जानकर आप उड़ जायेंगे होश, पढ़े

टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा मौजूदा वक्त में सीमित ओवर के क्रिकेट में दुनिया के सबसे विस्फोटक बल्लेबाज हैं। आज के दौर में विपक्षी टीम तब तक बैकफुट पर रहती है, जब तक यह भारतीय ओपनर क्रीज पर डटा रहता है। लेकिन कहते हैं न हर किसी की एक न एक कहानी या ऐसा दौर होता, जहां से सब कुछ बदल जाता है।

दरअसल रोहित वर्ष 2007 से टीम इंडिया का भाग रहें है।   कई वर्षों तक रोहित शर्मा अपनी प्रतिभा से न्याय नहीं कर पाए। लेकिन क्रिकेट में एक अच्छा मैच आपकी तकदीर बदलने का कार्य करता है व यह कहावत रोहित शर्मा के लिए ठीक साबित हुई। वर्ष 2013 की चैंपियंस ट्रॉफी के दौरान टीम इंडिया के कैप्टन महेंद्र सिंह धोनी ने रोहित शर्मा को पहली बार ओपनिंग करने भेजा व फिर क्रिकेट की दुनिया को नया बादशाह मिल गया।  

रोहित ने उस मैच बतौर ओपनर साउथ अफ्रीका के विरूद्ध 81 गेंदों में 8 चौके व 1 छक्के की सहायता से 65 रनों की पारी खेली। साथ ही इस चैंपियन ट्रॉफी में रोहित शिखर धवन के बाद सबसे अधिक रन बनाने बाले दूसरे भारतीय भी रहे है। हिटमैन ने चैंपियन ट्रॉफी 2013 के 5 मैचों 177 रन बनाए, जिसमें 2 अर्धशतक शामिल थे।

हालांकि रोहित शर्मा ने इस टूर्नामेंट में कोई लंबी पारी नहीं खेली थी। लेकिन बतौर सलामी बल्लेबाज शर्मा जी ने जिस शैली के साथ अपना खेल दिखाया, उस आधार पर क्रिकेट जगत को एक नया रोहित शर्मा मिल गया था। इस बात की पुष्टि खुद रोहित शर्मा ने कई मौके पर की है कि अगर धोनी उनको उस मैच में ओपनिंग के लिए न भेजते तो शायद आज रोहित क्रिकेट में इतने सफल न होते। मौजूदा समय में रोहित शर्मा के पास वनडे में 3 दोहरे शतक हैं, जोकि एक वर्ल्ड रिकॉर्ड है। इसके अतिरिक्त टी20 इंटरनेशनल में रोहित के नाम सबसे ज्यादा 4 शतक दर्ज हैं।