अगले दौर में बनाया अपना स्थान, प्रजनेश ने किया शानदार प्रदर्शन

अगले दौर में बनाया अपना स्थान, प्रजनेश ने किया शानदार  प्रदर्शन

इंडिया के प्रजनेश गुणेश्वरन ने ऑस्ट्रेलियन ओपन क्वालिफायर के दूसरे दौर में अपना स्थान बना लिया है। विश्व के 221वें नंबर के खिलाड़ी प्रजनेश ने 119वें नंबर के कोलंबिया के डेनियल इलाही गालान को 1 घंटे 13 मिनट में 6-4, 6-4 से कड़ी मात दी है। प्रजनेश का सामना जर्मनी के मैक्समिलियन मार्टरर से होने वाला है जिन्होंने क्रोएशिया के निनो एस को 3-6, 6-1, 6-4 से हरा दिया था। जीत के उपरांत प्रजनेश ने बोला है कि यह मैच बहुत शानदार था। मैंने यहां अच्छी शुरुआत कर ली है। बीते कुछ माह की तुलना में मैंने अच्छा खेल दिखाया और इस लय को आगे भी जारी रखने वाला हूँ।

रामकुमार, युकी व अंकिता आज उतरेंगे कोर्ट पर: रिपोर्ट्स के अनुसार रामकुमार रामनाथन, युकी भांबरी और अंकिता रैना मंगलवार को अपने-अपने क्वालिफायर मुकाबलों के लिए मैदान में उतरने वाले है। भांबरी को दुनिया के 248वें नंबर के पुर्तगाल के जोओ डोमिनगेज से और रामकुमार दुनिया के 197वें नंबर के इटली के जियान मोरोनी से खेलने वाले है। 

रामकुमार अभी तक 22 कोशिश में ग्रैंडस्लैम के मुख्य ड्रॉ में जगह नहीं बना सके है। महिलाओं में अंकिता रैना यूक्रेन की 118वीं रैंकिंग की लेसिया सुरेंको के विरुद्ध अपने अभियान की शुरुआत करने वाली है।


इस मैच में हुई राफेल नडाल की यह शानदार जीत

इस मैच में हुई राफेल नडाल की यह शानदार जीत

स्पेनिश दिग्गज राफेल नडाल ने अपने रिकॉर्ड 21वां ग्रैंडस्लैम पुरूष एकल खिताब जीतने की तरफ एक कदम और भी बढ़ा चुके है। नडाल ने मंगलवार को क्वार्टर फाइनल मुकाबले में डेनिस शापोवालोव को 4 घंटे के मैराथन मुकाबले में पांच सेट में हराकर 7वीं बार आस्ट्रेलियाई ओपन के सेमीफाइनल में हिस्सा ले लिया है। नडाल ने क्वार्टर फाइनल में 14वीं वरीयता प्राप्त शापोवालोव पर 6-3, 6-4, 4-6, 3-6, 6-3 से जीत हासिल कर ली है। पहले दो सेट में हावी रहने के  उपरांत तीसरे और चौथे सेट में पेट की गड़बड़ी की वजह से उनकी लय टूटी लेकिन निर्णायक सेट जीतकर उन्होंने अंतिम 4 में स्थान बना लिया है।

नडाल यहां सिर्फ एक बार 2009 में खिताब जीत सके हैं और बीते 13 में से 7 बार क्वार्टर फाइनल में हार चुके है। अब सेमीफाइनल शुक्रवार को होने वाला है यानी उन्हें दो दिन का विश्राम मिल जाएगा। सेमीफाइनल में उनका सामना 7वीं वरीयता प्राप्त माटियो बेरेटिनी से होने वाला है। विंबलडन के उपविजेता और 7वीं  रैंकिंग बेरेटिनी ने एक अन्य मैराथन मुकाबले में 17वीं वरीयता प्राप्त गेल मोनफिल्स को 6-4, 6-4, 3-6, 3-6, 6-2 से भी मात दी है। वह आस्ट्रेलियाई ओपन के सेमीफाइनल में पहुंचने वाले इटली के पहले खिलाड़ी बन चुके है। 

महिला वर्ग में मंगलवार को खेले गये दोनों क्वार्टर फाइनल मैच का निर्णय सीधे सेटों में किया गया है। दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी एश्ले बार्टी ने 21वीं वरीयता प्राप्त जेसिका पेगुला को 6-2, 6-0 से जबकि मेडिसन कीज ने फ्रेंच ओपन चैंपियन बारबोरा क्रेसीकोवा को 6-3, 6-2 से पराजित किया जा चुका है। बार्टी बीते  3 सालों में दूसरी बार आस्ट्रेलियाई ओपन के सेमीफाइनल में पहुंची है। कीज 7 वर्ष के उपरांत मेलबर्न पार्क में अंतिम 4 में पहुंची है। विंबलडन 2021 की चैंपियन बार्टी 1978 के उपरांत आस्ट्रेलियाई ओपन जीतने वाली पहली आस्ट्रेलियाई महिला बनने के प्रयास में लगी हुई है। अब उनका सामना मेडिसन कीज से होगा। बार्टी 2020 में सेमीफाइनल में सोफिया केनिन से हार गई थी।