राष्ट्रीय हॉकी शिविर में भारतीय हॉकी टीम खिलाड़ियों पर मंडरा रहा कोरोना का कहर

 राष्ट्रीय हॉकी शिविर में भारतीय हॉकी टीम खिलाड़ियों पर मंडरा रहा कोरोना का कहर

भारतीय हॉकी टीम के कैप्टन मनप्रीत सिंह समेत पांच खिलाड़ियों को कोरोना हो गया है. मनप्रीत के अतिरिक्त डिफेंडर सुरेंदर कुमार, जसकरण सिंह व ड्रैग फ्लिकर वरुण कुमार कोरोना पॉजिटिव पाये गए हैं. 

बाद में पता चला कि गोलकीपर कृष्णा बी पाठक भी कोरोना जाँच में पॉजिटिव पाये गए हैं. साई के मुताबिक, प्रदेश सरकार से उनकी रिपोर्ट बाद में मिली. ये सभी खिलाड़ी बेंगलुरु स्थित भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) के नेशनल सेंटर ऑफ एक्सीलेंस (एनसीओई) में राष्ट्रीय हॉकी शिविर में भाग लेने पहुंचे थे. ये सभी खिलाड़ी घर पर एक महीने के ब्रेक के बाद टीम के साथ नेशनल कैंप के लिए पहुंचे थे.

साई ने कैंप में रिपोर्ट करने वाले सभी खिलाड़ियों का रैपिड कोविड-19 टेस्ट करना जरूरी किया है. कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए सभी खिलाड़ियों ने एक साथ ही यात्रा की थी. ऐसे में संभावना है कि घर से बेंगलुरु पहुंचते हुए वे कोरोनावायरस से संक्रमित हुए हों. मनप्रीत के अलावा, डिफेंडर सुरेंद्र कुमार, जसकरन सिंह व ड्रैग-फ्लिकर वरुण कुमार भी कोरोनावायरस पॉजिटिव पाए गए हैं.

साई की ओर से जारी बयान में मनप्रीत ने कहा, ‘मैं साई कैम्पस में सेल्फ क्वारंटीन हूं. साई के अधिकारियों ने जिस तरह से स्थिति को संभाला है, उससे मैं बहुत खुश हूं.’ मनप्रीत ने कहा, ‘मैं अच्छा हो रहा हूं व बहुत स्वस्थ होने की उम्मीद है. मैं बहुत खुश हूं कि उन्होंने (साई) एथलीटों के लिए टेस्ट को जरूरी किया है. उस प्रोएक्टिव कदम ने समय पर समस्या की पहचान करने में सहायता की.’

साई ने बताया कि प्रारम्भ में सभी चारों खिलाड़ियों का रैपिड टेस्ट में नकारात्मक आया था, लेकिन जब मनप्रीत व सुरेंदर में COVID-19 के कुछ लक्षण दिखे तो गुरुवार को उनका क्वांटिटेटिव आरटी-पीसीआर टेस्ट लिया गया. उन्होंने 10 अन्य खिलाड़ियों के साथ यात्रा की थी, उनका भी टेस्ट किया गया. इनमें से चार खिलाड़ी कोरोना पॉजिटिव पाए गए.

हालांकि, टेस्ट की रिपोर्ट अब तक साई को नहीं सौंपी गई है. लेकिन प्रदेश सरकार ने साई के अधिकारियों को टेस्ट के नतीजों के बारे में बता दिया है. कुछ खिलाड़ियों की टेस्ट रिपोर्ट अभी नहीं आई है. कोरोना पॉजिटिव पाए गए मनप्रीत समेत सभी एथलीटों ने नेशनल कैंप के अधिकारियों को सूचित कर दिया है. स्वास्थ्य मंत्रालय के दिशानिर्देशों के अनुसार वे अब 14 दिन तक क्वारंटीन में रहेंगे.