आज तक आईसीसी वनडे वर्ल्ड कप में हिंदुस्तान को नहीं हरा सका पाक 

 आज तक आईसीसी वनडे वर्ल्ड कप में हिंदुस्तान को नहीं हरा सका पाक 

हिंदुस्तान व पाक (India vs Pakistan) के क्रिकेट मैच में रोमांच हमेशा चरम पर ही रहता है। माना जाता है कि क्रिकेट में दोनों राष्ट्रों के बीच क्रिकेट का कोई भी मुकाबला उसी तरह से कट्टर माना जाता है जैसा कि ऑस्ट्रेलिया व इंग्लैंड के बीच एशेज में होता है। 

हिंदुस्तान व पाक के बीच यह भी हकीकत है कि पाक आज तक आईसीसी वनडे वर्ल्ड कप में हिंदुस्तान को नहीं हरा सका है। ऐसा ही एक रोमांचक मैच वर्ष 2003 में हुआ था जिसमें मैच के हीरो बनकर निकले थे।

साल 2003 में जब  दक्षिण अफ्रीका में वनडे वर्ल्ड कप हुआ था। उस समय टीम सौरव गांगुली की कप्तानी वाली टीम में सचिन तेंदुलकर भी थे। उनके अतिरिक्त वीरेंद्र सहवाग, राहुल द्रविड़ व युवराज सिंह जैसे महान भी टीम में उपस्थित थे। वहीं वकार युनिस की कप्तानी वाली पाक टीम शाहिद अफरीदी, सईद अनवर, इंजमाम उल हक, वसीम अकरम, शोएब अख्तर जैसे दिग्गजों से सजी थी।  

इस मैच में पाक ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय किया था व सईद अनवर के शतक के दम पर टीम 50 ओवर में 7 विकेट पर 273 रन बना गई थी। इस पारी में पाकिस्तान के दूसरे सबसे स्कोरर युनुस खान थे जिन्होंने 32 रन बनाए थे।  

टीम इंडिया के लिए सचिन तेंदलुकर ने सईद अनवर की जवाबी पारी खेली थी, लेकिन वे 28वें ओवर में ही दो ही रन से शतक से चूक गए थे। जबकि उनसे पहले वीरेंद्र सहवाग (21), कैप्टन सौरव गांगुली (0), व मोहम्मद कैफ (35) उनसे पहले ही पवेलियन लौट गए थे। सचिन के आउट होने के समय टीम इंडिया का स्कोर 177 रन था।  

सचिन के जाने के समय टीम इंडिया को 128 गेंदों में 97 ही रन बनाने थे। लेकिन हिंदुस्तान पाकिस्तान मैच के लिए यह भी कोई सरल कार्य नहीं था। ऐसे में राहुल द्रविड़ व युवराज सिंह ने मोर्चा संभाला व यह सुनिश्चित किया कि टीम बिना कोई व विकेट गंवाएं मैच जीत लिए। सचिन की पारी ने दोनों का कार्य सरल कर दिया था।  

टीम इंडिया ने 46 ओवर से पहले ही 276 रन बनाकर मैच अपने नाम कर लिया व पाक के विरूद्ध दुनिया कप में अजेय होने का रिकॉर्ड कायम रखा। पाक के पास के खुश होने के लिए केवल एक की बात थी कि वे सचिन को शतक बनाने से रोकने में सफल हो गए लेकिन टीम की पराजय के कारण वे इसका जश्न नहीं मना सके।