रूट न्यूजीलैंड में दोहरा शतक ठोकने वाले पहले विदेशी कप्तान

रूट न्यूजीलैंड में दोहरा शतक ठोकने वाले पहले विदेशी कप्तान

न्यूजीलैंड के विरूद्ध दूसरे टेस्ट के चौथे दिन इंग्लैंड के कैप्टन जो रूट ने इतिहास रच दिया। जो रूट (Joe Root) ने न्यूजीलैंड के विरूद्ध शानदार दोहरा शतक ठोका व वो कीवियों की भूमि में दोहरा शतक ठोकने वाले पहले विदेशी कैप्टन बन गए। बेहद ही बेकार फॉर्म में चल रहे जो रूट ने खेल के तीसरे दिन शतक लगाया था व चौथे दिन उन्होंने डबल सेंचुरी पूरी कर ली। जो रूट की सेंचुरी की बदौलत इंग्लैंड ने पहली पारी में 476 रन बनाए व उसने इंग्लैंड पर 101 रनों की बढ़त हासिल की।

दोहरा शतक जो रूट के लिए बेहद खास
इंग्लैंड के कैप्टन जो रूट (Joe Root) का दोहरा शतक उनके लिए बेहद ही खास है। दरअसल इंग्लैंड के कैप्टन जो रूट टेस्ट क्रिकेट में बेहद ही बेकार फॉर्म से गुजर रहे थे। रूट ने इस पारी से पहले वर्ष 2019 में टेस्ट क्रिकेट में महज 27.4 की औसत से रन बनाए थे व इंग्लिश मीडिया में उनकी कप्तानी पर सवाल उठ रहे थे। बोला जा रहा था कि कप्तानी के बोझ का प्रभाव जो रूट की बल्लेबाजी पर पड़ रहा है जिसके बाद अटकलें थी कि वो कप्तानी को अलविदा कह सकते हैं। हालांकि हैमिल्टन में दोहरा शतक ठोक जो रूट ने सभी आलोचकों का मुंह बंद कर दिया।

जो रूट न्यूजीलैंड में दोहरा शतक ठोकने वाले पहले विदेशी कप्तान

जो रूट के दोहरे शतक की बड़ी बातें
जो रूट (Joe Root) ने 441 गेंदों में 226 रनों की पारी खेली। अपनी इस मैराथन पारी में उन्होंने 22 चौके व एक छक्का लगाया। बता दें ये जो रूट के करियर की सबसे धीमी पारी है। हालांकि अपनी इस पारी के दौरान जो रूट ने कई बड़े कारनामों को अंजाम दिया है। जो रूट पहले विदेशी कैप्टन हैं जिसने न्यूजीलैंड की भूमि पर दोहरा शतक ठोका है। साथ ही वो न्यूजीलैंड के विरूद्ध सबसे बड़ा टेस्ट स्कोर बनाने वाले विदेशी कैप्टन भी बन गए हैं। जो रूट ने सचिन तेंदुलकर के 217 रनों का रिकॉर्ड तोड़ा। बता दें विराट कोहली ने भी न्यूजीलैंड के विरूद्ध बतौर कैप्टन 211 रनों की पारी खेली है।