स्पोर्ट्स

ऑस्ट्रेलिया टीम के कप्तान सहित इन खिलाड़ियों के लिए शमी किसी ‘काल’ से कम नहीं

भारतीय क्रिकेट के इतिहास में रविवार को एक नया अध्याय जुड़ेगा उस दिन हिंदुस्तान का तीसरी बार वर्ल्ड चैंपियन बनने का सपना साकार होता दिख रहा है उसका फाइनल मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया से सामना होगा अब तक नौ लीग और सेमीफाइल मैच में हिंदुस्तान अजेय रहा है उसने हर एक टीम को मता दी है वर्ल्ड कप के इस पूरे यात्रा में टीम की ओर से गेंदबाजी में मोहम्मद शमी ने सबसे अहम किरदार निभाई है सेमीफाइनल में तो उन्होंने विपक्षी न्यूजीलैंड को धूल चटा दी थी उन्होंने उस मैंच में एक-दो नहीं बल्कि पूरे सात विकेट चटकाए थे इस वर्ल्ड कप के बीते छह मैचों में वह अब तक 23 विकेट चटक चुके हैं उन्होंने इस दौरान तीन बार पांच या उससे अधिक विकेट लेने का कारनामा किया है इस उपलब्धि के साथ वह वर्ल्ड कप में हिंदुस्तान की ओर से सबसे अधिक विकेट लेने का रिकॉर्ड भी बना चुके हैं

ऐसे में हर किसी की जुबां पर एक ही प्रश्न है कि क्या फाइनल मुकाबले में भी मोहम्मद शमी का जादू चलेगा क्या उनकी गेंदें कहर बनकर गिरेंगी इसका उत्तर सुनने से पहले आपको इन आंकड़ों पर नजर डालना होगा दरअसल, मोहम्मद शमी ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध अब तक 24 एकदिवसीय मैच खेले हैं इनमें उन्होंने 38 विकेट चटकाए हैं उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन इसी वर्ष का है

सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन
22 सितंबर 2023 को मोहाली में खेले गए मैच में उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के पांच विकेट चटकाए इस मैच में उन्होंने 10 ओवर की गेंदबाजी की और 51 रन खर्च किए उन्होंने तीन खिलाड़ियों स्टीव स्मिथ, मर्कस स्टॉनिस और सीन अबोट को क्लिन बोल्क किया, जबकि मिशेल मार्श और मैथ्यू शॉर्ट को कैच आउट करवाया इन 24 मुकाबलों में ऐसा सात बार हुआ है जब शमी ने तीन या उससे अधिक विकेट चटकाए हैं

अब आप सोच रहे होंगे कि इसमें क्या बड़ी बात है लेकिन, कहानी अब प्रारम्भ होती है शमी भारत के लिए इस समय किसी ब्रह्मास्त्र से कम नहीं हैं उनका नाम ही विपक्षी टीमों में भय पैदा करने के लिए काफी है मगर, मौजूदा ऑस्ट्रेलियाई टीम शमी के नाम से कुछ अधिक ही सचेत है दरअसल, ऑस्ट्रेलिया की मौजूदा टीम के कप्तान सहित पांच ऐसे खिलाड़ी हैं जिनके लिए मोहम्मद शमी किसी ‘काल’ से कम नहीं हैं इसमें सबसे प्रमुख नाम है स्टीव स्मिथ का वह कैरेबियाई टीम के प्रमुख बल्लेबाज हैं लेकिन शमी ने उन्हें एक दो नहीं बल्कि पूरे चार बार पवेलियन भेजा है कई बार तो शमी की गेंद पर वह क्लिन बोल्ड हुए हैं

डेविड वॉर्नर को तीन बार भेजा पवेलियन
इस सूची में दूसरे नंबर पर मार्कस स्टॉयनिस, ग्नेन मैक्सवेल और डेविड वॉर्नर हैं ये तीनों टीम ऑस्ट्रेलिया की रीढ़ हैं लेकिन इन तीनों को भी शमी ने नहीं बख्शा ये तीनों शमी की गेंद पर एक-दो नहीं बल्कि तीन-तीन बार पवेलियन लौटे हैं अब बात आती है विपक्षी टीम के कप्तान की बेहतरीन गेंदबाज पैट कमिन्स के हाथों में इस समय ऑस्ट्रेलियाई टीम की कमान है

शमी ने इन पर भी दया नहीं किया इनको भी शमी की गेंद पर दो बार पवेलियन लौटना पड़ा है इसके अतिरिक्त शमी ने मौजूदा ऑस्ट्रेलियाई टीम के खिलाड़ी एलेक्स कैरी, एडम जंपा, कैमरन ग्रीन, सीन अबोट, मिशेल मार्श और जोस हैजलवुड को एक-एक बार पवेलियन का रास्ता दिखाया है ऐसे में शमी से विपक्षी टीम को भय खाना लाजिमी है

जहां तक वर्ल्ड कप की बात है तो मोहम्मद शमी को प्रारम्भ के चार मैचों में मौका नहीं मिला ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या के चोटिल होने के बाद वह अंतिम-11 में शामिल हुए प्लेइंग इलेवन का हिस्सा बनते ही उन्होंने अपना होला मनवा दिया वह अब तक छह मैचों में नौ की औसत से 23 विकेट चटका चुके हैं वहीं टीम इण्डिया के प्रमुख गेंदबाज जसप्रीत बुमराह के पास इस वर्ल्ड कप के 10 मैचों में अभी तक सिर्फ़ 18 विकेट हैं

Related Articles

Back to top button