बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए पहले ही दी मंजूरी

बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए पहले ही दी मंजूरी

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने बोला कि भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए पहले ही मंजूरी दे दी है. अब हमने ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट बोर्ड से खिलाड़ियों का क्वारैंटाइन समय कम करने के लिए बोला है. उम्मीद है ऐसा होगा, क्योंकि दो सप्ताह होटल के रूम में रहना बहुत कठिन होगा.

भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलिया दौरे पर अक्टूबर में 3 टी-20 की सीरीज के बाद अक्टूबर-नवंबर में ही टी-20 वर्ल्ड कप खेलना है. इसके बाद दिसंबर-जनवरी में ऑस्ट्रेलिया के विरूद्ध 4 टेस्ट व 3 वनडे की सीरीज भी होनी है. वहीं, संभावना जताई जा रही है कि कोरोना के कारण वर्ल्ड कप टल सकता है.

होटल में दो सप्ताह रहना डिप्रेसिंग व डिसपॉइंटिंग
गांगुली ने एक न्यूज चैनल से कहा, ‘‘हमने दौरे के लिए मंजूरी दे दी है. दिसंबर में हमें वहां जाना होगा. हमें उम्मीद है कि क्वारैंटाइन के दिनों को थोड़ा घटाया जाएगा, क्योंकि हम नहीं चाहते कि खिलाड़ी दो सप्ताह तक होटल के रूम में बैठे रहें. यह बहुत बहुत डिप्रेसिंग व डिसपॉइंटिंग है. मेलबर्न को छोड़कर ऑस्ट्रेलिया व न्यूजीलैंड में दशा अच्छा हैं, इसलिए हमें क्वारैंटाइन के दिन कम होने की उम्मीद है.’’

हम भारतीय टीम से विदेश में सिर्फ जीत की उम्मीद करते हैं
उन्होंने कहा, ‘‘यह बहुत कठिन सीरीज होने वाली है. यह दो वर्ष पहले हुई सीरीज की तरह नहीं होगी. इस बार ऑस्ट्रेलिया बहुत ज्यादा मजबूत है, जबकि हिंदुस्तान भी अच्छी टीम है. हमारे पास शानदार बेट्समैन, बॉलर हैं. हमें सिर्फ अच्छी बल्लेबाजी की आवश्यकता होगी. मैंने विराट को भी यह बताया है. मैंने उनसे बोला कि आप विराट कोहली हो, आपका स्टैंडर्ड हाई है. जब विदेश में जाते हैं, तो मैं टीवी पर आपको खेलते देखता हूं. मैं यह उम्मीद नहीं करता कि आप ऑस्ट्रेलिया के विरूद्ध अच्छा खेलें. मैं आशा करता हूं कि आप सिर्फ जीतें.’’

पिछली बार हिंदुस्तान ने ऑस्ट्रेलिया को 2-1 हराया था
पिछली बार 2018 के आखिर में भी दोनों राष्ट्रों के बीच 4 टेस्ट की सीरीज खेली गई थी. तब हिंदुस्तान ने ऑस्ट्रेलिया को उसी के घर में 2-1 से हराया था. टीम इंडिया की ऑस्ट्रेलिया में यह पहली टेस्ट सीरीज जीत थी. हिंदुस्तान ने ऑस्ट्रेलिया में अब तक 12 में से 8 सीरीज हारीं व 3 ड्रॉ खेली हैं.