स्पोर्ट्स

5 खिलाड़ियों को बीसीसीआई ने दिया ‘स्पेशल कॉन्ट्रैक्ट’

 बीसीसीआई ने साल 2023-24 के लिए अपने केंद्रीय अनुबंध की घोषणा कर दी है. अनुबंध 1 अक्टूबर 2023 से 30 सितंबर 2024 तक है। इसके लिए 30 खिलाड़ियों का चयन किया गया है. इसके अलावा बोर्ड की ओर से इन ठेकों के लिए विशेष नियम भी बनाए गए हैं. इतना ही नहीं सबसे अहम बात यह है कि चयनकर्ताओं ने पहली बार बीसीसीआई को एक खास प्रस्ताव दिया है, जिसके तहत अनकैप्ड खिलाड़ियों को भी खास कॉन्ट्रैक्ट मिल सकता है. दरअसल, इस प्रस्ताव में पांच तेज गेंदबाजों के नाम हैं, जिनमें से उमरान मलिक और आकाशदीप को इंडिया कैप मिल चुकी है। तीन नाम अनकैप्ड खिलाड़ियों के हैं.

कौन हैं पांच गेंदबाज?
बुधवार को जब बीसीसीआई ने अपना केंद्रीय अनुबंध जारी किया तो एक विशेष विज्ञप्ति भी साझा की गई. इस प्रकाशन में एक विशेष तेज गेंदबाजी समझौते के प्रस्ताव के बारे में जानकारी दी गई थी. बीसीसीआई ने अपनी विज्ञप्ति में लिखा है कि, ‘चयन समिति ने कुछ गेंदबाजों के लिए तेज गेंदबाजी अनुबंध की पेशकश की है. इनमें शामिल हैं- उमरान मलिक, आकाशदीप, यश दयाल, विद्वाथ कावेरप्पा, विजय कुमार विशाख इनमें से विशाख, यश दयाल और कावेरप्पा को अभी तक इंडिया कैप नहीं मिली है।

घरेलू क्रिकेट में उनकी लगातार सक्रियता के चलते चयन समिति ने बीसीसीआई से विशेष अनुबंध की मांग की है. हालाँकि, इस तेज़ गेंदबाज़ी समझौते के प्रावधान क्या होंगे, इस पर अभी तक कोई निर्णय नहीं लिया गया है और न ही कोई जानकारी उपलब्ध है। ए प्लस, ए, बी और सी के तहत ग्रेड की तरह खिलाड़ियों को पूरे साल के लिए एक निश्चित राशि मिलती है। वहीं, तेज गेंदबाजी अनुबंध में इन खिलाड़ियों को कितना मिलेगा इसकी जानकारी अभी सामने नहीं आई है।

घरेलू क्रिकेट खेलने पर सख्त निर्देश
इस रिलीज के अंत में बीसीसीआई की ओर से एक और खास नोटिफिकेशन दिया गया है. बोर्ड ने साफ लिखा है कि जो खिलाड़ी टीम इंडिया के साथ नहीं खेल रहे हैं. उस वक्त उन्हें घरेलू क्रिकेट में हिस्सा लेना होता है. ये सख्त आदेश इस बात का संकेत थे कि हाल ही में ईशान किशन ने जिन आदेशों का उल्लंघन किया है, उन्हें दोहराया नहीं जाना चाहिए. इसका खामियाजा इशान किशन को भी भुगतना पड़ा. इसके अलावा अय्यर के फिटनेस विवाद ने उनका कॉन्ट्रैक्ट छीन लिया.

Related Articles

Back to top button