स्पोर्ट्स

बैडमिंटन खिलाड़ी एचएस प्रणय ने विश्व चैंपियनशिप में पदक जीतकर किया अपने नाम

भारतीय स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी एचएस प्रणय ने बहुत बढ़िया प्रदर्शन करते हुए विश्व के नंबर एक खिलाड़ी डेनमार्क के विक्टर एक्सेलसेन को क्वार्टर फाइनल में हराकर विश्व चैंपियनशिप में पदक अपने नाम कर लिया अब उनका मुकाबला थाईलैंड के कुनवालत विदिदरसन से होगा तीन गेमों के क्वार्टर फाइनल मुकाबले में प्रणय ने ओलंपिक चैंपियन को 68 मिनट में 13-21, 21-15 21-16 से हराया विश्व चैंपियनशिप में यह प्रणय का पहला पदक होगा

पीवी संधू ने एक स्वर्ण, दो रजत और दो कांस्य पदक जीते हैं साइना नेहवाल ने एक रजत और एक कांस्य पदक जीता है किंदाबी श्रीकांत के नाम एक रजत पदक है प्रकाश पदुकोण, बी साई प्रणीत और लक्षे सेन ने कांस्य पदक जीते हैं युगल में सात्विक साईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी के अतिरिक्त ज्वाला गट्टा और अश्विनी पोनप्पा ने स्त्री युगल में कांस्य पदक जीता है

पहले गेम में दुनिया के नौवें नंबर के खिलाड़ी प्रणय को अपनी लय हासिल करने में समय लगा, तब तक क्षेत्रीय स्टार एक्सेलसन ने 11-5 की बढ़त बना ली थी एक्सेलॉन ने अपनी बढ़त बरकरार रखी और पहला गेम सरलता से जीत लिया दूसरे गेम में भारतीय खिलाड़ी ने लय बरकरार रखी उन्होंने लंबी रैलियों के बाद अंक हासिल किए उन्होंने न सिर्फ़ डेनिश खिलाड़ी के स्मैश पर अच्छा खेल खेला बल्कि नेट पर ड्रॉप शॉट भी खेले दूसरा गेम 21-15 से जीतकर उन्होंने मुकाबले को निर्णायक गेम में बदल दिया

तीसरे गेम में प्रणय हावी रहे उन्होंने मध्य तक 11-6 की बढ़त बना ली थी दूसरी ओर, एक्सेलसन की थकान पर काबू पाया जा रहा था प्रणॉय पर काफी दबाव था क्योंकि विक्टर को घरेलू दर्शकों से काफी समर्थन मिल रहा था एसएच प्रणय ने बोला कि हां, मैंने विश्व चैंपियनशिप में पदक जीता है मेरा पूरा ध्यान मैच पर था’ मेरा ध्यान सिर्फ़ अंक हासिल करने पर था

Related Articles

Back to top button