ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर पाकिस्तान जाने हैं इंकार, आतंक का डर

ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर पाकिस्तान जाने  हैं इंकार, आतंक का डर

पिछले वर्ष टी-20 वर्ल्ड कप से ठीक पहले टी-20 सीरीज खेलने पहुंची न्यूजीलैंड टीम ने मैच से कुछ घंटे पहले मैदान पर उतरने से मना करते हुए पाकिस्तान की इंटरनेशनल लेवल पर किरकिरी करा दी थी। इसके बाद इंग्लैंड ने भी अपना दौरा टाल दिया था। अब जब ऑस्ट्रेलिया को पाकिस्तान जाना है तो एक बार फिर आतंकी घटनाएं बढ़ गई हैं। की वजह से ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर डरे हुए हैं और दौरा खतरे में पड़ता दिख रहा है।सिडनी मॉर्निंग हेराल्ड की रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान में आतंकी हमलों में तेजी के बीच ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर 24 साल में अपने पहले दौरे से मुश्किल से एक महीने पहले चिंतित हैं। टीम के एक करीबी सूत्र ने कहा, हम सभी इसके बारे में चिंतित हैं।

ऑस्ट्रेलिया को 3 मार्च से पाकिस्तान में तीन टेस्ट, तीन एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय और एक टी20 मैच खेलना है। न्यूजीलैंड ने सुरक्षा मुद्दों का हवाला देते हुए सितंबर, 2021 में अचानक अपने दौरे को रोक दिया था। इंग्लैंड ने इसके बाद अपने दौरे को रद्द करने का ऐलान किया था। दूसरी ओर, पाकिस्तान ने माना है कि अफगानिस्तान में तख्ता पलट के बाद से आतंकी घटनाओं में वृद्धि हुई है। पाकिस्तान के गृह मंत्री शेख राशिद ने कहा कि अमेरिका के अफगानिस्तान से हटने के बाद तालिबान सरकार बनने से आतंकवादी घटनाओं में एक तिहाई से अधिक की वृद्धि हुई है।पूर्वी पाकिस्तान लाहौर में हाल ही में भीड़-भाड़ वाले बाजार में बम विस्फोट हुआ। इसमें तीन लोगों की मौत हो गई और 20 से अधिक घायल हो गए। दक्षिण-पश्चिमी बलूचिस्तान प्रांत में स्थित एक नवगठित अलगाववादी समूह ने रॉयटर्स के एक रिपोर्टर को भेजे गए एक टेक्स्ट संदेश में हमले की जिम्मेदारी ली है। उल्लेखनीय है कि इससे पहले अमेरिका के टेक्सास में हुई आतंकी घटना ने पूरी दुनिया का ध्यान पाकिस्तान में सक्रिय आतंकवाद की ओर खींचा था। यहां पाकिस्तानी मूल के एक शख्स ने 4 लोगों को बंधक बनाकर लेडी अल-कायदा कही जाने वाली आतंकवादी आफिया सिद्दीकी की रिहाई की मांग की थी। इससे इंटरनेशनल लेवल पर पाकिस्तान की बेइज्जती हुई थी।

24 वर्ष में पहला दौरा

पाकिस्तान ने पिछली बार अपनी सरजमीं पर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के टूर्नामेंट का आयोजन 1996 में किया था जब उसने भारत और श्रीलंका के साथ विश्व कप की सहमेजबानी की थी। 2009 में श्रीलंका की टीम बस पर आतंकी हमले के बाद से देश में 2019 तक टेस्ट क्रिकेट का आयोजन नहीं हो पाया। ऑस्ट्रेलिया की टीम 24 साल में पहले पाकिस्तान दौरे की राह पर है।दूसरी ओर, राष्ट्रीय चयनकर्ता जॉर्ज बेली ने कहा, ‘मेरा मानना है कि दोनों बोर्ड अब भी दौरे को लेकर कुछ मामूली चीजों पर काम कर रहे हैं, इसलिए एक बार इन्हें औपचारिक स्वीकृति मिलने के बाद हम टीम की घोषणा करेंगे लेकिन हम काफी हद तक सही दिशा में जा रहे हैं।’ ऑस्ट्रेलिया ने पिछली बार 1998 में मार्क टेलर की अगुआई में पाकिस्तान का दौरा किया था।


लखनऊ सुपर जाएंट्स ने किया क्वालीफाई

लखनऊ सुपर जाएंट्स ने किया क्वालीफाई

क्विंटन डिकॉक की बेजोड़ शतकीय पारी और मार्कस स्टोइनिस के अंतिम दो गेंदों पर दो विकेट की सहायता से लखनऊ सुपर जायंट्स ने बुधवार को कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) पर दो रन की रोमांचक जीत दर्ज करके आईपीएल में फिर से दूसरा जगह हासिल किया. लखनऊ ने पिछले दो मुकाबलों की हार को पीछे छोड़ते हुए 20 ओवर में बिना कोई विकेट खोये 210 रन  का विशाल स्कोर बनाया और कोलकाता की कड़ी चुनौती को 20 ओवर में आठ विकेट पर 208 रनों पर थाम  लिया. लखनऊ की 14 मैचों में यह नौंवीं जीत रही और वह 18 अंकों के साथ तालिका में दूसरे नंबर पर पहुंच गया है जबकि कोलकाता को 14 मैचों में आठवीं हार का सामना करना पड़ा और वह 12 अंकों पर ही रह गया. 

डिकॉक ने तीन बार जीवनदान मिलने के बाद 70 गेंदों पर नाबाद 140 रन बनाये जो उनके टी20 करियर का सर्वोच्च स्कोर है. इस दक्षिण अफ्रीकी विकेटकीपर बल्लेबाज ने इस बीच 10 छक्के और इतने ही चौके लगाये. राहुल ने 51 गेंदों पर तीन चौकों और चार छक्कों की सहायता से नाबाद 68 रन की पारी खेली. इससे लखनऊ ने पहले बल्लेबाजी करते हुए बिना किसी हानि के 210 रन का विशाल स्कोर बनाया. इसके उत्तर में केकेआर ने आठ विकेट पर 208 रन बनााये. उसके लिये कप्तान श्रेयस अय्यर (29 गेंदों पर 50 रन, चार चौके, तीन छक्के), नितीश राणा (22 गेंदों पर 42 रन, नौ चौके) और सैम बिलिंग्स (24 गेंदों पर 36 रन, दो चौके, तीन छक्के) ने रन बनाये लेकिन कोई भी अपनी पारी लंबी नहीं खींच पाया.

संबंधित खबरें

लेकिन रिंकू सिंह (15 गेंदों पर 40 रन, दो चौके, चार छक्के) और सुनील नारायण (सात गेंदों पर नाबाद 21, तीन छक्के) ने अंतिम क्षणों में केकेआर को जीत के करीब पहुंचा दिया. जब केकेआर को दो गेंदों पर तीन रन की दरकार थी तब स्टोइनिस (दो ओवर में 23 रन देकर तीन) ने इविन लुईस के बहुत बढ़िया कैच की सहायता से रिंकू और फिर उमेश यादव को आउट करके बाजी पलटी. मोहसिन खान ने भी 20 रन देकर तीन विकेट लिये.

लखनऊ ने इस तरह से जीत से लीग चरण के अपने अभियान का अंत किया. उसके नौ जीत से 18 अंक हैं. केकेआर की यह 14 मैचों में आठवीं हार थी जिससे वह टूर्नामेंट से बाहर भी हो गया. डिकॉक और राहुल ने आईपीएल में पहले विकेट के लिये सबसे बड़ी और कुल तीसरी सर्वोच्च साझेदारी की. आईपीएल में यह पहला अवसर है जबकि पहले बल्लेबाजी करने वाली किसी टीम ने पूरे 20 ओवर में कोई विकेट नहीं गंवाया.     
इसके उल्टा केकेआर ने वेंकटेश अय्यर (शून्य) का विकेट पहले ओवर में ही गंवा दिया. मोहसिन ने उन्हें डिकॉक के हाथों कैच कराने के बाद अपने अगले ओवर में दूसरे सलामी बल्लेबाज अभिजीत तोमर (चार) को भी चलता किया जिनका कैच राहुल ने लिया. राणा ने आवेश खान के पहले ओवर में पांच चौके लगाये तो श्रेयस ने जेसन होल्डर पर दो चौके और एक छक्का लगाकर बिल्कुल से पारी का स्वरूप बदल दिया. राणा ने ऑफ स्पिनर कृष्णप्पा गौतम का स्वागत भी तीन चौकों से करके पावरप्ले में टीम का स्कोर 60 रन पर पहुंचाया, लेकिन उन्होंने इसी गेंदबाज के अगले ओवर में लांग ऑफ पर आसान कैच थमा दिया.

राणा की स्थान उतरे बिलिंग्स ने आवेश पर एक छक्का और दो चौके लगाये जबकि श्रेयस ने 11वें ओवर की पहली गेंद पर चौका जमाकर केकेआर का स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया. बिलिंग्स ने रवि बिश्नोई के इस ओवर में छक्का लगाया जिससे राहुल और डिकॉक को आपस में मंत्रणा करने के लिये विवश होना पड़ा. 

मोहसिन ने ऐसे में 13वें ओवर में सिर्फ दो रन देकर लखनऊ को कुछ राहत पहुंचायी जबकि स्टोइनिस ने अगले ओवर में श्रेयस को धीमी गेंद पर गच्चा देकर कैच कराया जिन्होंने इससे पहले 28 गेंदों पर अर्धशतक पूरा किया था. इससे बिलिंग्स के साथ उनकी 66 रन की साझेदारी का भी अंत हुआ. बिलिंग्स को भी इसके बाद बिश्नोई ने गुगली पर गच्चा दे दिया था.

मोहसिन ने आंद्रे रसेल (पांच) को आउट करके केकेआर आशा समाप्त कर दी, लेकिन यहां से रिंकू का जलवा दिखा. केकेआर को अंतिम ओवर में 21 रन की दरकार थी. रिंकू ने स्टोइनिस की पहली तीन गेंदों पर दो छक्के और एक चौका लगाया लेकिन लुईस ने लंबी दौड़ लगाकर उनका बहुत बढ़िया कैच लेकर पासा पलट दिया.इससे पहले राहुल और डिकॉक ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी के लिये उतरी लखनऊ की टीम को बहुत अच्छी आरंभ दिलायी. इन दोनों ने पावरप्ले में 44 रन जोड़े. डिकॉक जब 12 रन पर थे तो अभिजीत तोमर ने उनका कैच छोड़ा जिसका उत्सव उन्होंने उमेश यादव पर छक्का जड़कर मनाया. राहुल ने भी इस गेंदबाज के अगले ओवर में गेंद छह रन के लिये भेजी.डिकॉक ने आंद्रे रसेल का स्वागत छक्के से किया तो राहुल ने टिम साउदी पर लगातार दो छक्के जड़कर अपने आक्रामक तेवरों का खुलकर प्रदर्शन किया और इस बीच वर्तमान सत्र में अपनी रन संख्या 500 के पार पहुंचायी. डिकॉक ने 36 गेंदों पर अपना पचासा पूरा किया और सुनील नारायण पर छक्का लगाकर 13वें ओवर में टीम का स्कोर तिहरे अंक में पहुंचाया. उन्होंने नारायण की गेंद पर एक और जीवनदान पाने के बाद केकेआर को इसकी सजा वरुण चक्रवर्ती पर दो छक्के और एक चौका लगाकर दी. इस बीच राहुल ने 41 गेंदों पर अपना अर्धशतक पूरा किया.
 डिकॉक ने अब रसेल को निशाने पर रखा तथा उन पर पहले छक्का और फिर चौका लगाकर आईपीएल में अपना दूसरा शतक पूरा किया जिसके लिये उन्होंने 59 गेंदें खेली. उन्होंने साउदी पर लगातार तीन छक्के लगाने के बाद रसेल पर लगातार चार चौके लगाये. इस बीच उन्हें तीसरी बार जीवनदान भी मिला.