ब्रील एम्बोलो ने जड़ा इकलौता गोल पर नहीं किया सेलिब्रेट, जानिए कारण

ब्रील एम्बोलो ने जड़ा इकलौता गोल पर नहीं किया सेलिब्रेट, जानिए कारण

फीफा वर्ल्ड कप में गुरुवार को स्विट्जरलैंड ने कैमरून को 1-0 से हराया. स्विट्जरलैंड की ओर से ब्रील एम्बोलो ने हाफ टाइम के ठीक बाद 48वें मिनट में गोल दागा. हालांकि, उन्होंने गोल सेलिब्रेट नहीं किया. दरअसल, ब्रील का जन्म कैमरून में ही हुआ था, लेकिन वे अब स्विट्जरलैंड से खेलते हैं.

इस मैच के बाद अब ग्रुप G में स्विट्जरलैंड 3 पॉइंट्स के साथ टॉप पर आ गया है. ग्रुप का अगला मुकाबला आज देर रात ब्राजील और सर्बिया के बीच खेला जाएगा.

ब्रील एम्बोलो ने 48वें मिनट में गोल स्कोर किया<span class='red'>.</span>

ब्रील एम्बोलो ने 48वें मिनट में गोल स्कोर किया.

5 वर्ष की उम्र में छोड़ दिया था कैमरून
एम्बोलो ब्रील जब पांच वर्ष के थे, तब उनके पैरेंट्स अलग हो गए थे. ब्रील मां के साथ फ्रांस चले गए और अगले वर्ष स्विट्जरलैंड चले गए. इससे उन्हें स्विट्जरलैंड की नागरिकता मिल गई और उन्होंने वहां से ही स्विट्जरलैंड नेशनल फुटबाॅल टीम में स्थान बनाई.

गोल करने के बाद ब्रील एम्बोलो ने हाथ जोड़ कर कैमरून के देशवासियों से माफी मांगी<span class='red'>.</span>

गोल करने के बाद ब्रील एम्बोलो ने हाथ जोड़ कर कैमरून के देशवासियों से माफी मांगी.

दूसरे हाफ में दागा गोल
पहले हाफ में स्कोर 0-0 था. पहले हाफ के ठीक बाद 48 वें मिनट में स्विट्जरलैंड के खिलाड़ी ब्रील एम्बोलो ने गोल किया. बॉक्स के अंदर उन्हें पास मिला जिसका लाभ उठाते हुए उन्होंने गोलकीपर को छकाते हुए गोल स्कोर किया. स्विट्जरलैंड ने गोल पर 6 शॉट मारे जिसमें से एक नेट के अंदर गया.

स्विट्जरलैंड के गोलकीपर यान सोमर ने <span class=

स्विट्जरलैंड के गोलकीपर यान सोमर ने बहुत बढ़िया प्रदर्शन किया. उन्होंने 5 सेव करते हुए क्लीन शीट रखी. जब किसी फुटबॉल मैच में कोई गोलकीपर एक भी गोल नहीं खाता है तो इसे क्लीन शीट कहते हैं.

कैमरून ने चांस बनाए पर गोल करने में नाकाम
कैमरून ने गेम के दौरान स्विट्जरलैंड से अधिक चांस बनाए. जहां स्विट्जरलैंड ने गोल की तरफ 6 शॉट मारे, वहीं कैमरून ने 8 शॉट मारे. इसके बावजूद कैमरून अच्छी फिनिशिंग नहीं कर पाया और मैच जीतने में असफल रहा.

स्विट्जरलैंड और कैमरून की स्टार्टिंग प्लेइंग इलेवन

स्विट्जरलैंड (4-5-1): यान सोमर, सिल्वन विडमेर, निको एल्वेदिक, मैनुअल अकांजी, रिकार्डो रोड्रिगेज, रेमो फ्रीयूलर, ग्रांट जाका, मोहम्मद सोव, रुबेन वर्गास, जेरदान शकीरी, ब्रील एम्बोलो.

कैमरून (4-3-3): आंद्रे ओनाना, निकोलस एनकोउलू, कोलिन्स एफएआई, जीन-चार्ल्स कैस्टेलेटो, नूहौ टोलो, आंद्रे-फ्रैंक जाम्बो एंगुइसा, सैमुअल गौएट, मार्टिन हांग्ला, कार्ल टोको एकांबी, चोपो-मोटिंग एरिक मैक्सिम, ब्रायन म्ब्यूमो.