स्पोर्ट्स

डब्ल्यूएफआई ने विश्व क्वालीफायर में भारतीय टीम के चयन के लिये नये सिरे से ट्रायल कराने का किया फैसला

नयी दिल्ली . एशियाई ओलंपिक क्वालीफायर में भारतीय पुरूष टीम के खराब प्रदर्शन से नाराज और चिंतित भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफआई) ने विश्व क्वालीफायर में भारतीय टीम के चयन के लिये नये सिरे से ट्रायल कराने का निर्णय किया है. बिश्केक में एशियाई चैम्पियनशिप में हिंदुस्तान ने 18 में से चार ही कोटा जगह हासिल किये और सभी स्त्री पहलवानों को मिले जिनमें विनेश फोगाट भी शामिल है.

 

उनके अतिरिक्त आखिरी पंघाल (53 किलो), अंशु मलिक (57 किलो) और रीतिका (76 किलो) ने भी कोटा हासिल किया. अभी भी 14 श्रेणियां बची है और नौ मई से तुर्की में होने वाले विश्व क्वालीफायर में जीतना एशियाई क्वालीफायर की तुलना में मुश्किल होगा. डब्ल्यूएफआई सभी 14 श्रेणियों में ट्रायल का आयोजन करेगा. इनमें स्त्री वर्ग में दो (68 और 62 किलो) , पुरूष फ्रीस्टाइल और ग्रीको रोमन में छह छह वर्ग शामिल है जिनके ट्रायल अप्रैल के अंतिम हफ्ते या मई के प्रथम हफ्ते में आयोजित किये जायेंगे.

एक सूत्र ने बोला ,‘‘ अध्यक्ष संजय सिंह ने भारतीय कोचों और चयन समिति के सदस्यों से प्रदर्शन पर चर्चा की. उन्होंने स्वीकार किया कि यह बहुत खराब प्रदर्शन रहा. यह पहली बार हुआ है कि फ्रीस्टाइल में भी हिंदुस्तान को कोटे के लिये जूझना पड़ रहा है. ’’ उन्होंने बोला ,‘‘ यह तय किया गया है कि डब्ल्यूएफआई सभी 14 वर्गों में ट्रायल का आयोजन करेगा.’’ ग्रीको रोमन में तो आलम यह था कि पहले दौर के मुकाबले जीतने के लिये भी भारतीय पहलवान जूझते दिखे.

 

Related Articles

Back to top button