जो कर्ली बालों से परेशान होकर कारगर नुस्खों की तलाश में है ये उपाए आएगा उनके काम

जो कर्ली बालों से परेशान होकर कारगर नुस्खों की तलाश में है ये उपाए आएगा उनके काम

ये अजीब विडंबना है, जब किसी के बाल सीधे यानी स्ट्रेट होते है तो उन्हें कर्ली यानी घुंघराले बाल की इच्छा होती है। अधिकतर देखा जाता है कि वो लोग जिनके बाल कर्ली होते हैं वो अपने बालों से नाखुश ही रहते हैं। कभी बालों को सुलझाने की दिक्कत तो कभी स्टाइलिंग की दिक्कत आती है। लेकिन जो चीज आपको प्राकृतिक मिली है उससे बदला नहीं जा सकता लेकिन उसे अपनाकर हल जरूर निकाला जा सकता है। ये खबर उन लोगों के बड़े काम आएगी जिनके बाल कर्ली हैं और जो कर्ली बालों से परेशान होकर कारगर नुस्खों की तलाश में हैं।


कर्ली बालों की बड़ी समस्याएं

ब्रश या कंघी करने में परेशानी
आसानी से बालों का उलझ जाना
रूखे, बेजान और फ्रिजी बाल
कमजोर बाल
बालों का झड़ना

ध्यान से चुनें शैंपू
कर्ली बाल बिल्कुल अलग होते हैं इसलिए इनके लिए प्रोडक्ट्स बहुत ध्यान से चुनना चाहिए। प्राकृतिक तेल की कमी की वजह से घुंघराले बालों का रूखा और फ्रिजी होना बहुत ही आम बात है इसलिए इनके लिए एक अच्छा मॉइश्चरिंग शैंपू चुनें। मॉइश्चराइजिंग शैंपू आपके बालों के प्राकृतिक तेल को नुकसान नहीं पहुंचाएगा।

कम करें शैंपू आमतौर पर हफ्ते में 3 बार शैंपू करना ठीक माना जाता है लेकिन कर्ली बालों के लिए ऐसा नहीं है। रूखा और फ्रिजी होने की वजह से हफ्ते में एक या दो ही बार शैंपू करें। शैंपू को हमेशा पानी के साथ मिलाकर इस्तेमाल करें। ऐसा करने से बालों के टिप्स रूखे और फ्रिजी नहीं होंगे।

ना भूलें कंडीशनर कर्ली बालों से ज्यादा कंडीशनर की जरूरत शायद ही किसी को होती हो। इसलिए शैंपू करने के बाद कभी भी कंडीशनर इस्तेमाल करना ना भूलें। हो सके तो लीव-इन कंडीशनर का इस्तेमाल करें, जो बालों को लंबे समय तक मॉइश्चराइज रखेगा।

गर्म पानी है नुकसानदेह कर्ली बालों के लिए गर्म पानी किसी दुश्मन से कम नहीं होता है। गर्म पानी नैचुरल ऑयल्स को खत्म करके बालों को ड्राय बनाता है। बालों को धोने के लिए हमेशा नॉर्मल पानी का इस्तेमाल करें और सर्दियों में गुनगुने पानी का।

सीरम लगाना न भूलें कर्ली बालों को जितनी देखभाल और मॉइश्चर किया जाए उतना कम है। ऐसे में कर्ली बालों के लिए सीरम एक बहुत अच्छा प्रोडक्ट है। एक अच्छा हायड्रेटिंग और एंटी-फ्रिज सीरम आपके बालों का साथी बन सकता है।

हीटिंग टूल्स से रहें दूर हीटिंग टूल्स जहां बालों को स्टाइल करने में बहुत मदद करते हैं वहीं इनके अपने कुछ गहरे साइड इफेक्ट्स भी होते हैं। ये बालों को ना सिर्फ रूखा कर देते हैं बल्कि उन्हें फ्रिजी भी बना देते हैं इसलिए कर्ली बालों के लिए बेहतर यही है कि उन पर हीटिंग टूल्स का इस्तेमाल कम से कम किया जाए।

ट्रिमिंग है जरूरी कर्ली बालों में रफ टिप्स और स्प्लिट एंड्स होना आम बात है। बालों की क्वॉलिटी बनाए रखने के लिए और इन्हें स्वस्थ रखने के लिए समय-समय पर इनकी ट्रिमिंग करवाना जरूरी है।