विश्व की सबसे बड़ी ट्रेवल कंपनियों में शामिल थॉमस कुक हो गई बंद

विश्व की सबसे बड़ी ट्रेवल कंपनियों में शामिल थॉमस कुक हो गई  बंद

विश्व की सबसे बड़ी ट्रेवल कंपनियों में शामिल थॉमस कुक (Thomas Cook) रविवार रात से बंद हो गई है. 178 साल पुरानी ब्रिटिश टूर ऑपरेटर बहुत ज्यादा समय से फंड की समस्या से जूझ रही थी. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कंपनी ने एक बयान में बोला है कि, 'कंपनी को बंद करने के अतिरिक्त उनके पास कोई अन्य चारा नहीं था.' कंपनी के बंद होने से 22,000 लोगों की नौकरियों पर खतरा मंडरा रहा है, जिसमें से 9,000 कर्मचारी इंग्लैंड के ही हैं.

कंपनी के बंद होने से ना केवल कर्मचारी बल्कि ग्राहक, सप्लायर व कंपनी के पार्टनर्स पर भी प्रभाव पड़ेगा. इसके लिए थॉमस कुक के चीफ एक्जिक्यूटिव पीटर फैंकहॉजर ने ग्राहकों, सप्लायर्स, कर्मचारी व पार्टनर्स से क्षमा मांगी है. दुनिया की सबसे पुरानी ट्रैवल कंपनी बहुत समय से फंड की कमी से जूझ रही थी व बैंकों की एक समिति ने अलावा फंड की उसकी मांग पर फैसला रोक दिया था. पिछले महीने अगस्त में थॉमस कुक ने रिकैपिटलाइजेशन से सम्बंधित योजना को लेकर चाइना की शेयरहोल्डर फोसुन के साथ एक सौदे की प्रमुख शर्तों को पर सहमति जाहिर की थी. यह सौदा 1.1 अरब डॉलर का था.

इतना ही नहीं, रॉयल बैंक ऑफ स्कॉटलैंड (आरबीएस) से भी कंपनी को बड़ा झटका मिला था. बैंक के एक प्रवक्ता ने बोला था कि कंपनी के 20 करोड़ पाउंड की अलावा फंड की मांग को स्वीकार नहीं किया गया. आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि आरबीएस पिछले कई सालों से कंपनी को सहायता उपलब्ध कराता रहा है.