दालचीनी का उपयोग करने से शरीर को मिलता है ये लाभ

दालचीनी का उपयोग करने से शरीर को मिलता है ये लाभ

छोटे सदाबहार पेड़ से प्राप्त दालचीनी बेहद खुशबूदार होती है. इसकी छाल को खासतौर पर मसाले के रूप में इस्तेमाल में लेते हैं. साथ ही इससे निकला ऑयल भी कई तरह से उपयोगी है. जानते हैं इसके इस्तेमाल के बारे में-

पोषक तत्त्व : थाइमीन, फॉस्फोरस, प्रोटीन, सोडियम, विटामिन, कैल्शियम, मैंग्नीज, पोटेशियम, निआसीन, काबोहाइडे्रट आदि तत्त्वों से युक्त दालचीनी स्वाद में थोड़ी मीठी व तीखी होती है. स्वाद बढ़ाने के अतिरिक्त यह वात कफ से जुड़े रोगों को दूर करने में उपयोगी है. यह कई औषधियां बनाने में भी प्रयोग होती है.

ध्यान रखें : दालचीनी चूर्ण 4-5 ग्राम और ऑयल की 3-4 बूंद की मात्रा से अधिक न लें. गर्म तासीर होने से अधिक लेने पर लिवर फेल होने, गर्भाशय में सिकुड़ने, स्कीन पर और पेट में जलन हो सकती है.

फायदे -
उल्टी, दिल रोग, जोड़ों में दर्द, बेचैनी, सर्दी-जुकाम जैसे मौसमी रोग, अपच व महिला संबंधी रोगों के लिए इसे खासतौर पर इस्तेमाल में लेते हैं. वजन कम करने के अतिरिक्त यह डायबिटीज में ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने का कार्य करती है. इसमें कैंसर विरोधी गुण पाए जाते हैं जिस कारण कई प्रकार के कैंसर के उपचार में इसे इस्तेमाल करते हैं.