तालिबान ने अफगानिस्तान के लोगो को बनाया बंधक, जानिए ये है वजह

 तालिबान ने अफगानिस्तान के लोगो को बनाया बंधक,  जानिए ये है वजह

अमरीका व तालिबान के बीच अफगानिस्तान में शांति बहाली को लेकर वार्ता का आखिरी दौर चल रहा है, लेकिन इस बीच एक बड़ी घटना सामने आई है.

अफगान सरकार के विरूद्ध लड़ाई लड़ रहे तालिबान ने अफगानिस्तान के प्रमुख शहर कुंदुज पर हमला करते हुए अस्पताल में मरीजों को बंधक बना लिया है.

अफगानिस्तान सरकार ने शनिवार को जानकारी देते हुए बताया है कि तालिबान ने यह हमला ऐसे समय में किया है जब 18 वर्ष से चल रहे प्रयत्न को खत्म करने के लिए अमरीका के साथ वार्ता का कर रहा है. तालिबान की मांग की है कि अफगानिस्तान से सभी विदेशी बल बाहर जाएं.

बता दें कि सारे अफगानिस्तान में करीब आधे हिस्से पर तालिबान का अतिक्रमण या दबदबा है. 2001 से अमरीकी सुरक्षा बल अफगानिस्तान में तैनात है व तालिबान के विरूद्ध लड़ाई लड़ रहा है, लेकिन इसके बावजूद भी मजबूत स्थिति में है.

अफगानिस्तान के राष्ट्रपति के प्रवक्ता सादिक सिद्दीकी ने बोला कि तालिबानी हमलों का मुहतोड़ जवाब सुरक्षा बल दे रहे हैं. वहीं प्रांतीय परिषद मेम्बर अधीन रब्बानी ने बताया कि तालिबान ने कुंदुज अस्पताल पर अतिक्रमण कर लिया है. सुरक्षाबलों व तालिबानी लड़ाकों के बीच प्रयत्न में दोनों पक्षों के लोग हताहत हुए हैं.

फिलहाल, हताहतों की संख्या को जाहिर नहीं किया गया है. रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता रूहुल्ला अहमदजई ने पत्रकारों से बात करते हुए बताया कि तालिबानी आतंकवादियों ने मरीजों को बंधक बना लिया है.

उन्होंने यह भी बताया कि हवाई हमले में 26 तालिबान आतंकी मारे गए हैं. हालांकि यह साफ नहीं किया कि इस प्रयत्न में कितने आम नागरिक हताहत हुए या फिर अफगान सुरक्षा बलों को नुकसान हुआ है. तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्ला मुजाहिद ने एक ट्वीट में इस हमले को बड़े स्तर पर किया हमला करार दिया.

मालूम हो कि बीते 18 वर्षों से अफगानिस्तान में सत्ता के लिए सरकार व तालिबान के बीच प्रयत्न चल रहा है. इस बीच अमरीकी सेना ने तालिबानियों के विरूद्ध अभियान चलाया, लेकिन इसके बावजूद भी समस्या का हल नहीं हुआ है. अब अफगान शांति बहाली के लिए अमरीका तालिबान के साथ वार्ता कर रहा है.