पीएम नरेंद्र मोदी कुछ ही देर बाद 50 हजार लोगों को एक साथ करेंगे संबोधित

पीएम नरेंद्र मोदी कुछ ही देर बाद 50 हजार लोगों को एक साथ करेंगे संबोधित

अमरीका के ह्यूस्टन स्थित एनआरजी स्टेडियम में आयोजित 'हाउडी मोदी' प्रोग्राम में पीएम नरेंद्र मोदी कुछ ही देर बाद 50 हजार लोगों को एक साथ संबोधित करेंगे.

प्रधानमंत्री मोदी रात 8:30 बजे NRG स्टेडियम पहुंचेंगे. इसके बाद रात के 9:30 बजे अमरीकी राष्ट्रपति का सम्बोधन होगा. प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी रात 10 बजे लोगों को संबोधित करेंगे.

यह पहला ऐसा मौका है, जब किसी भी देश का राष्ट्राध्यक्ष अमरीका में इतनी बड़ी विशान संख्या को एक साथ संबोधित करेंगे.

इस भव्य प्रोग्राम में शामिल होने के लिए अमरीकी राष्ट्रपति मैरीलैंड से वायु सेना के एक विशेष विमान से अपने प्रतिनिधिमंडल के साथ रवाना हो गए हैं. राष्ट्रपति ट्रंप 100 मिनट तक इस प्रोग्राम में रहेंगे. इस बीच वे 30 मिनट तक सम्बोधन भी देंगे.

दर्शकों में बहुत ज्यादा उत्साह

इस प्रोग्राम में शामिल होने को लेकर दर्शकों में बहुत ज्यादा उत्साह है व अब वे स्टेडियम के अंदर आना प्रारम्भ कर चुके हैं.

स्टेडियम में एंट्री के लिए लंबी लाइनें लग गई हैं. अपनी बारी के लिए उत्साहित लोगों का करीब एक किलोमीटर की लंबी लाइन लगी है.

दर्शकों का उत्साह यह बता रहा है कि अमरीक का ह्यूस्टन शहर पूरी तरह से मोदीमय हो गया है. हर तरफ मोदी-मोदी के नारे लग रहे हैं. चारों ओर मोदी की ही तस्वीर छाई हुई है.

बता दें कि 'हाउडी मोदी' प्रोग्राम की आरंभ राष्ट्रगान के साथ होगा. प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी व डोनाल्ड ट्रंप व हजारों की भीड़ के सामने एक बेहद खास बच्चा स्पर्श शाह इसकी आरंभ करेंगे.

पीएम मोदी के साथ ट्रंप रहेंगे मौजूद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कुछ ही देर बाद 50 हजार लोगों को एक साथ संबोधित करेंगे. यह पहला ऐसा मौका है, जब किसी भी देश का राष्ट्राध्यक्ष अमरीका में इतनी बड़ी विशान संख्या को एक साथ संबोधित करेंगे.

सबसे दिलचस्प है कि अमरीका के भी इतिहास में इतनी बड़ी संख्या को किसी भी नेता ने अब तक संबोधित नहीं किया है. लिहाजा भारतीय समुदाय की ओर से प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी के लिए आयोजित 'हाउडी मोदी' प्रोग्राम में शामिल होकर अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पहली बार इस विशाल जनसागर को संबोधित करेंगे.

बता दें कि ह्यूस्टन के एनआरजी फुटबॉल स्टेडियम में होने वाले इस प्रोग्राम में 50 हजार लोग शामिल होंगे. इतना ही नहीं आठ हजार से अधिक लोग वेटिंग लिस्ट में हैं.