पाक के पीएम को अमेरिका के आधिकारिक दौरे पर जाने के लिए अपना दे दिया प्राइवेट ‘जेट जीएलएफ-6’

पाक के पीएम को अमेरिका के आधिकारिक दौरे पर जाने के लिए अपना दे दिया प्राइवेट ‘जेट जीएलएफ-6’

सऊदी अरब के प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने पाक के पीएम को अमेरिका के आधिकारिक दौरे पर जाने के लिए अपना प्राइवेट ‘जेट जीएलएफ-6’ दे दिया. इमरान को यहां संयुक्त देश महासभा में भाग लेना है. दरअसल, पाक के पीएम पैसे बचाने के चक्कर में कमर्शियल फ्लाइट से अमेरिका जाने वाले थे.

इस बात की जानकारी होने पर प्रिंस ने बोला कि वह (इमरान) उनके अतिथि हैं ऐसे में वह उन्हें कमर्शियल फ्लाइट से अमेरिका नहीं जाने देंगे. अमेरिका रवाना होने से पहले इमरान खान अपनी पत्नी के साथ मक्का पहुंचे थे. इमरान ने अपनी पत्नी बुशरा बेगम के साथ यहां ‘उमराह’ भी किया था.

हालांकि, पाक में इस घटना को लेकर मिलीजुली रिएक्शन देखने को मिली. कई लोग इसे अपने मुल्क की खस्ता हालत का नमूना बता रहे हैं. वहीं, बताया जा रहा है कि इमरान खान पाक की बेपटरी अर्थव्यवस्था को अच्छा करने के लिए सरकारी खर्चे में कटौती करने के तहत इस तरह के कदम उठा रहे हैं. इसी वजह से उन्होंने कॉमर्शियल फ्लाइट से अमेरिका जाने का निर्णय किया था.

सऊदी प्रिंस ने न सिर्फ इमरान को अपना प्राइवेट जेट दिया बल्कि उनकी बेगम को भी विशेष विमान से पाक भिजवाया. इमरान खान 27 सिंतबर को संयुक्त देश की आम सभा को संबोधित करेंगे. इमरान अपने संबोधन में कश्मीर के मामले को उठाएंगे. इसके अतिरिक्त वह अन्य मुद्दों पर भी अपनी बात रखेंगे. इससे पहले उन्होंने सऊदी प्रिंस के सामने भी कश्मीर का राग अलापा था.

संयुक्त देश सभा में भाग लेने के साथ ही पाकिस्तानी पीएम का अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से भी मिलने का प्रोग्राम है. इमरान खान के साथ विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी, वित्त सलाहकार डाक्टर हाफिज शेख व पाक के विदेश मामलों के स्पेशल असिस्टेंट जुल्फिकार बुखारी भी जाएंगे. इससे पहले दोनों नेताओं की 22 जुलाई को वाइट हाउस में मुलाकात हुई थी. उस समय भी इमरान कमर्शियल जेट से अमेरिका पहुंचे थे.

ऐसा पहली बार नहीं है कि सऊदी अरब ने पाक के प्रति इस तरह का रुख दिखाया है. पिछली बार जब सऊदी प्रिंस पाक की यात्रा पर गए थे तो उन्होंने पाक में कई अरब डॉलर निवेश करने का वादा किया था.