बिहार में बीजेपी के विरुद्ध विपक्ष के नेताओ ने किया ये काम

  बिहार में बीजेपी के विरुद्ध विपक्ष के नेताओ ने किया ये काम

लोकसभा चुनाव में शर्मनाक पराजय के बाद बिहार में दम तोड़ते महागठबंधन को फिर से जिंदा करने के कोशिश तेज कर दिए गए हैं। महागठबंधन में शामिल घटक दल लोहिया के बहाने एकजुटता दर्शाने की प्रयास करेंगे।

12 अक्टूबर को पटना के बापू मीटिंग हॉल में महागठबंधन की ओर से साझा तौर पर लोहिया की पुण्यतिथि मनाई जाएगी जिसके सयोजक उपेन्द्र कुशवाहा रहेंगे।

वहीं, लोहिया की पुण्यतिथि पर आयोजित किए गए महागठबंधन के साझा प्रोग्राम में सारे देश के विपक्षी नेताओं को बुलाया जाएगा। इस प्रोग्राम में वाम दलों को भी बुलाए जाने की आसार है।

महागठबंधन में शामिल घटक दलों का यह प्रयास है कि एनडीए विरोधी ताकतें एकजुट हों। बीजेपी ने इस पर चुटकी ली है। बीजेपी प्रवक्ता प्रेम रंजन पटेल ने बोला है कि विपक्षी दल लोहिया की पुण्यतिथि मनाएंगे।

उन्होंने बोला कि लोहिया हमेशा कांग्रेस पार्टी के विरूद्ध रहे हैं व उन्होंने कांग्रेस पार्टी के विरूद्ध जंग लगी। लेकिन आज विपक्ष कांग्रेस पार्टी की गोद में जाकर बैठ गया है। लोहिया परिवारवाद के विरूद्ध रहे लोहिया करप्शन के खिलाफ रहें, किन्तु यह लोग अपने परिवार को सियासत में कैसे स्थापित करें इसी चिंता में लगे रहते हैं। विपक्ष करप्शन के आतंक में डूबा हुआ हैं, जिन चीजों को लोहिया ने विरूद्ध किया विरोध किया उन्हीं चीजों को ये महागठबंधन के दलों ने अपनाने का कार्य किया है।