बड़े लेन-देन के लिए अब आवश्यक होगा ये कार्ड, जानिए कैसे....

बड़े लेन-देन के लिए अब आवश्यक होगा ये कार्ड,  जानिए कैसे....

सरकार इन दिनों एक नयी योजना बना रही है, जिसका आप पर सीधा प्रभाव पड़ेगा. इसके तहत अगर आप सालाना अपने बैंक खाते में एक निश्चित राशि जमा करते हैं या निकालते हैं, तो आपके द्वारा सिर्फ पैन की जानकारी देना बहुत ज्यादा नहीं होगा.

Image result for बैंक में नौकरी,

इसके लिए सरकार आधार कार्ड को महत्वपूर्ण बना सकती है. इस कदम से सरकार का उद्देश्य हिंदुस्तान की अर्थव्यवस्था में करंसी के ज्यादा प्रवाह पर नकेल कसना है. इसके लिए आप बायोमेट्रिक टूल या वन टाइम पासवर्ड ( OTP ) का प्रयोग कर केवाईसी करवा सकते हैं.

टाइम्स ऑफ इंडिया की समाचार के अनुसार, इसका दायरा व भी बढ़ाया जाएगा. फाइनेंशल बिल में प्रस्तावित विधेयकों के अनुसार, इसमें सीमा से अधिक विदेशी करंसी की खरीद भी शामिल होगी. मौजदा समय में इसके लिए केवल पैन कार्ड ही दिया जाता है.

प्रॉपर्टी लेन-देन के मुद्दे में भी महत्वपूर्ण होगा आधार

इस संदर्भ में एक सूत्र ने बताया कि किसी निश्चित मूल्य के प्रॉपर्टी लेन-देन के मुद्दे में भी केवल आपके आधार या पैन की जानकारी देना जरूरी नहीं होगा. प्रॉपर्टी के रजिस्ट्रेशन के समय आधार के प्रमाणीकरण की भी आवश्यकता होगी.

छोटे लेन-देन करने वाले लोगों को नहीं होगी दिक्कत

सूत्रों की मानें तो इस व्यवस्था के तहत सरकार इस तरह से सीमा तय करना चाहती है, जिससे छोटे लेन-देन करने वाले लोगों को कोई परेशानी न आए. बल्कि केवल ऐसे लोगों को ट्रैक किया जा सके जो एक निश्चित मूल्य से अधिक का लेन-देन करते हैं. वैसे इनपर कार्य करने की आवश्यकता है. लेकिन बायोमेट्रिक टूल या फिर ओटीपी की मदद से आधार प्रमाणीकरण को जरूरी करने से 10 से 25 लाख तक के लेन-देन का पता लगाया जा सकता है.

फर्जी पैन रखने वाले लोगों की होगी पहचान

इस व्यवस्था से ना सिर्फ तय सीमा से अधिक का लेन-देन करने वाले लोगों का पता चलेगा, बल्कि फर्जी पैन नंबर रखने वाले लोगों की पहचान भी हो सकेगी. इससे फ्रॉड को कम करने में मदद मिलेगी.