1 सितंबर की पहली तारीख से ट्रैफिक के नए नियम लागू

1 सितंबर की पहली तारीख से ट्रैफिक के नए नियम लागू

सितंबर की पहली तारीख से ट्रैफिक के नए नियम लागू (new Motor Vehicles Bill) होने के बाद से कई जगहों पर बहुत ज्यादा चालान कटने की खबरें सामने आने लगी हैं। जुर्माने की रकम इतनी ज्यादा है कि कुछ लोगों को रातों की नींद तक इससे उड़ गई है। नए ट्रैफिक नियमों का ध्यान सिर्फ आम आदमी को ही नहीं, बल्कि पुलिस (police) कर्मियों को भी इसका खास ध्यान रखना पड़ेगा। क्योंकि अगर वो नियम तोड़ते हुए पकड़े गए तो उन्होंने दोगुना जुर्माना देना होगा।



एडवाइजरी जारी की
दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने अपने कर्मचारियों के लिए पुलिस द्वारा ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन को लेकर एडवाइजरी जारी की है। इसमें बोला गया है कि जिस अथॉरिटी के पास इस एक्ट के प्रावधान को लागू कराने का अधिकार है, अगर वो इस एक्ट के तहत आने वाले किसी नियम का उल्लंघन करते हैं, तो उन्हें दोगुना जुर्माना देना होगा। इसका सीधा सा मतलब ये है कि नए मोटर व्हीकल बिल में जुर्माने की जो राशि दी गई है। पुलिस कर्मियों को उसका दोगुना देना पड़ेगा, अगर वो नियम तोड़ते हैं।

सही तरीका से पालन करें ट्रैफिक रूल्स
सभी DCsP Districts/Units को आदेश दिए गए हैं कि वो अपने स्टाफ को इस बारे में सूचित करें व उनसे ट्रैफिक रूल्स का ठीक तरीका से पालन करें फिर चाहें वो पुलिस की गाड़ी चला रहे हों या फिर खुद की प्राइवेट गाड़ी।

सड़क हादसों में कमी लाने का लक्ष्य

बता दें कि इस जुलाई में संसद में Motor Vehicles (Amendment) Bill, 2019 पास किया गया था, जिसके तहत रोड सेफ्टी व ट्रैफिक रेगुलेशन से जुड़े नियम- जैसे ड्राइविंग लाइसेंस या ट्रैफिक नियमों को तोड़ने पर जुर्माने की रकम में परिवर्तन किया गया था। सरकार का लक्ष्य इससे सड़क हादसों में कमी व लोगों में अनुशासन लाने का है।


देना पड़ेगा इतना जुर्माना
नए नियम के तहत बिना हेलमेट के गाड़ी ड्राइव करने पर 10,000 रुपए जुर्माने के साथ तीन महीने तक लाइसेंस सस्पेंड कर दिया जाएगा। पहले इस पर 100 रुपए का जुर्माना लगता था। अगर कोई शराब पीकर गाड़ी चलाते हुए पाया गया तो पहली बार में उसके ऊपर 10,000 रुपए तक जुर्माना लग सकता है व 6 महीने की कारागार भी हो सकती है। लेकिन अगर दूसरी बार गलती करने पर दो वर्ष की कारागार व या 15,000 रुपए का जुर्माना भरना होगा।

इसी तह एंबुलेंस, फायर बिग्रेड व पीसीआर का रास्ता रोकने पर 10,000 रुपए का तक जुर्माना लग सकता है। बिना लाइसेंस के गाड़ी चलाने, रैश ड्राइविंग (खतरनाक ड्राइविंग) करने पर 10,000 रुपए के जुर्माने का प्रावधान है। वहीं टू-व्हीलर पर 2 से अधिक लोगों के बैठने पर दो हजार रुपए का जुर्माना भरना होगा। साथ ही तीन महीने तक लाइसेंस भी सस्पेंड किया जा सकता है। पहले ऐसा करने पर 100 रुपए का जुर्माना लगता था। सीट बेल्ट न लगाने पर 100 रुपए की स्थान अब 1,000 रुपए जुर्माना लगेगा।

बिना इंश्योरेंस के गाड़ी चलाने पर 2,000 हजार रुपए जुर्माना या 3 महीने तक की कारागार या फिर दोनों सजा हो सकती है। नाबालिग के गाड़ी चलाने के दौरान एक्सीडेंट होने पर वाहन मालिक या पैरेंट्स दोषी माने जाएंगे। उन्हें 25,000 रुपए तक जुर्माना व तीन वर्ष तक की कारागार है। साथ ही वाहन का रजिस्ट्रेशन भी एक वर्ष तक के लिए रद्द हो जाएगा। ड्राइविंग के समय फोन पर बात करने पर 5000 रुपए जुर्माना देना होगा। पहले यह 1000 रुपए था।