आइए जानते हैं, स्वास्थ्य के लिए भुट्टे के सेवन से फाएदे

आइए जानते हैं, स्वास्थ्य के लिए भुट्टे के सेवन से फाएदे

अकसर गर्मियों के सीजन नें खाए जाने वाले भुट्टे को कॉर्न भी कहते हैं. इसकी प्रमुख छह किस्मों में से स्वीट कॉर्न व फ्लोर कॉर्न को ज्यादा पसंद किया जाता है. औषधीय गुणों से भरपूर भुट्टा दिल और दिमाग को मजबूत और शक्तिशाली बनाकर दुरुस्त रखता है. आइए जानते हैं इसे फायदों के बारे में.

न्यूट्रीशन इंडेक्स-
एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर 100 ग्राम भुट्टे के दाने लगभग 365 कैलोरी ऊर्जा प्रदान करते हैं. इसमें 7 फीसदी फैट, 18 प्रतिशत प्रोटीन, 24 प्रतिशत कार्बोहाइड्रेट व 8 फीसदी पोटैशियम होता है. साथ ही इसमें 31 प्रतिशत मैग्नीशियम, 30 प्रतिशत विटामिन-बी६ व 15 फीसदी आयरन होता है. इसके अतिरिक्त यह कैल्शियम, फॉस्फोरस, कैरोटीन, फॉलिक एसिड वफाइबर जैसे गुणों से भरपूर होता है.

कितनी मात्रा जरूरी-
हफ्ते में 2-3 बार 100 ग्राम तक भुट्टे के दानों को खा सकते हैं. इसकी चाट या सब्जी बनाकर भी खा सकते हैं.

पौष्टिक तत्त्वों के लिए
माना जाता है कि किसी भी खाद्य सामग्री को कच्चा खाना ज्यादा लाभकारी होता है लेकिन भुट्टे को पकाने के बाद इसमें उपस्थित पौष्टिक तत्त्व व एंटीऑक्सीडेंट्स नष्ट होने के बजाय बढ़ जाते हैं.

इनके लिए मनाही-
एक भुट्टे में 5.36 ग्रा। शर्करा और 8.46 ग्रा। कॉम्प्लेक्स कार्बोहइड्रेट स्टार्च के रूप में होती है. मधुमेह रोगी डॉक्टरी सलाह से ही खाएं.