सुरक्ष‍ित यौन सम्बंध बनाने वाली लड़क‍ियों का शैक्ष‍िक प्रदर्शन पाया गया बेहतर

सुरक्ष‍ित यौन सम्बंध बनाने वाली लड़क‍ियों का शैक्ष‍िक प्रदर्शन पाया गया  बेहतर

सेक्स एक ऐसा मुद्दा हैं जिस पर खुलकर बात होना जरूरी हैं और बच्चों को इस पर सही शिक्षित करना भी जरूरी हैं ताकि वे गलत राह पर ना जाए। ऐसे में आज हम आपके लिए इंडियाना यूनिवर्सिटी की एक रिपोर्ट से जुड़ी जानकारी लेकर आए हैं जो स्कूली लड़कियों के संबंध बनाने और उनके स्कूल बंक करना व टेस्ट में फेल होना के बीच संबंध दर्शाती हैं।

यहां 14 से 17 उम्र की लड़कियों की 80 हजार डायरी की स्टडी करके इस दावे को पेश किया गया है। जिसे पढ़ने के बाद आम जन भी एक बार जरूर इस पहलू पर विचार करेगा। युवाओं के बीच किया गया यह अपनी तरह का पहला सर्वे है जिसमें लड़कियों के स्कूल की दिनचर्या और रिश्तों को लेकर आदतें समझने की कोशिश की गईं हैं।

'द जर्नल ऑफ एडोलिसेंट हेल्थ' ने यह स्टडी साझा की है। 10 साल में पूरे हुए इस अध्ययन के लिए 387 लड़कियों की डायरियों से रोमांटिक और फिजिकल रिलेशन को लेकर उनके व्यवहार को समझने प्रयास किया गया। स्टडी में शामिल लड़कियां अपने हर छोटे-बड़े व्यवहार को रिसर्चर से साझा करती थीं।

रिसर्च में सामने आया कि जो युवा लड़कियां स्कूल बंक करती हैं और टेस्ट में फेल होती हैं, ऐसी लड़कियां के स्कूल बंक करने और टेस्ट में फेल होने वाले दिन बिना कंडोम के सेक्स करने के मामले ज्यादा पाए गए हैं। वहीं सुरक्ष‍ित यौन सम्बंध बनाने वाली लड़क‍ियों का शैक्ष‍िक प्रदर्शन बेहतर पाया गया।