भीषण गर्मी से बचने में आपकी मदद करेंगे ये 8 तरीके

भीषण गर्मी से बचने में आपकी मदद करेंगे ये 8 तरीके

दिल्ली समेत सारे देश में भीषण गर्मी का कहर जारी है. पारा नित नयी ऊंचाई पर पहुंच रहा है. इसी के साथ गर्मियों में होने वाली बीमारियों का सिलसिला भी प्रारम्भ हो चुका है. धूप व लू के अतिरिक्त गंदगी व दूषित खाना या पानी से इस मौसम में बहुत ज्यादा लोग बीमार पड़ते हैं. कुछ सावधानियां अपनाकर मौसम की मार से बचा जा सकता है.

फोर्टिस हॉस्पिटल में इंटरनल मेडिसिन के डायरेक्टर चिकित्सक राजीव गुप्ता गर्मी के प्रकोप से बचे रहने के लिए कुछ सरल टिप्स बताए. आइए जानें इनके बारे में :

लंबे समय तक बाहर रहने से बचें : दोपहर 12 बजे से 3 बजे के बीच घर से बाहर निकलने से बचना चाहिए. सारे देश में जारी गर्मी के प्रकोप से बचने के लिए धूप के सीधे सम्पर्क में आने से परहेज करें.

धूप में निकलने से बचें : दिन के समय धूप में बाहर निकलना महत्वपूर्ण है तो सनस्क्रीन का प्रयोग जरूर करें. इसके अतिरिक्त टैनिंग व सनबर्न से बचने के लिए छतरी, टोपी, गीला तौलिया व ठंडा पानी साथ लेकर निकलें.

खाने में स्वच्छता का ध्यान रखें : खानपान में साफ-सफाई का बहुत ध्यान रखें. बाहर का तला-भुना व खुले में बनाया जा रहा कोई भी खाद्य पदार्थ खाने से बचें. इस मौसम में दूषित खाने या पानी से बीमारी होने का खतरा बेहद रहता है. बच्चों को भी इन बातों की जानकारी दें व उन्हें कुछ भी खाने से पहले हाथ धोने के लिए प्रेरित करें.

तरल पदार्थों का प्रयोग बढ़ाएं : जितना ज्यादा हो तरल पदार्थ जैसे नीबू पानी का इस्तेमाल करें. ध्यान रहे कि यह ठंडा हो बर्फीला नहीं, वरना दूसरी स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं.मौसमी फल जैसे खरबूज, तरबूज, आम, खीरा, ककड़ी का सेवन जरूर करें. हालांकि इनके सेवन के साथ भी कुछ सावधानियां जुड़ी हैं, जिनका ध्यान रखना महत्वपूर्ण है. शरीर में पानी की कमी न होने दें. एक दिन में कम से कम 8 से 10 गिलास पानी जरूर पिएं. छाछ, लस्सी, कच्चे आप का पना, बेल का शरबत या सत्तू का शरबत इस मौसम में बहुत लाभकारी होता है.

एक बार में अधिक खाने से परहेज करें : गर्मी के मौसम में दिन की आरंभ मीठे व रसीले फल से करना अच्छा रहेगा. चीकू, आड़ू, तरबूज, खरबूज या संतरा अच्छा विकल्प हो सकते हैं.खाने में प्याज व खीरा सलाद के तौर पर जरूर खाएं. यह आपको पाचन संबंधी परेशानियों से बचाएंगे व शरीर का तापमान भी नियंत्रित रखेंगे. दरअसल इनमें पर्याप्त मात्रा में पानी होता है, तो शरीर का तापमान नियंत्रित रखता है.

खाने में नमक पर नियंत्रण रखें : इस मौसम में खाने में नमक सामान्य मात्रा में रखना चाहिए. इससे ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने में मदद मिलती है. कैफीन, शराब या अत्यधिक चाय पीने से बचें, क्योंकि इनके प्रयोग से शरीर में पानी की कमी हो सकती है.

फुल स्लीव के ढीले-ढाले कपड़े पहनें : ढीले-ढाले व पूरी बाजू के और हल्के रंगों के कपड़ों का चुनाव करना चाहिए. यह सूरज के प्रकोप से बचाते हैं व पसीने सूखने में मदद करते हैं. इस मौसम में आंखों का भी पूरा ध्यान रखना चाहिए. इसलिए तेज धूप में घर से बाहर निकल रहे हैं तो सनग्लासेज का प्रयोग जरूर करें.

ज्यादा वर्कआउट करने से बचें : तेज गर्मी या उमस वाले मौसम में सामान्य वर्कआउट करना चाहिए. धूप में रहने के कारण अगर आपको थकान या चक्कर आ रहे हैं तुरंत पानी या नीबू पानी पीना चाहिए. साथ ही धूप से हटकर किसी छायादार स्थान पर आराम करना चाहिए. धूप लगने पर पैरों को हल्का सा ऊपर कर आधे घंटे के लिए लेट जाएं. इससे आपको शरीर को रिकवर करने का समय मिल जाएगा व बेहोशी से भी बच जाएंगे.