पोषण पुनर्वास केंद्र में विश्व स्तनपान सप्ताह का किया गया शुभारम्भ

पोषण पुनर्वास केंद्र में विश्व स्तनपान सप्ताह का  किया गया शुभारम्भ

मण्डला/प्रमोद धनगर: मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाक्टर नाथ सिंह ने बताया कि 1 अगस्त से 7 अगस्त तक विश्व स्तनपान हफ्ते शासन के निर्देशानुसार चलाया जा रहा है. इसी तारतम्य में दिनांक 5 अगस्त 2022 को जिला चिकित्सालय मंडला के पोषण पुनर्वास केंद्र में गतिविधि की गई. पोषण थाली प्रदर्शनी पोस्टर बैनर जन जागरूकता हेतु पोषक तत्व को ना के माध्यम से मौजूद महिलाएं एवं जनसमूह को गतिविधि के माध्यम से जन जागरूकता किया गया. 6 माह तक सिर्फ मां का दूध बच्चे को उसकी डिमांड के आधार पर पूर्ति हो मौजूद जानकार के द्वारा डिमांड फील्डिंग पर चर्चा की गई. 

मां के दूध का महत्व पहला दिन निकलने वाला, मां का दूध इसे चीक्य कोलोस्ट्रम कहते हैं गाढ़ा पीला पदार्थ पहले दिन बच्चे को जरूर पिलाएं. बच्चा जीवन भर सुरक्षित रखता है मां ठीक ढंग से बच्चे को दूध पिलाती है रोग से लड़ने की क्षमता बच्चे में रहती है डायरिया निमोनिया जैसी गंभीर रोगों से बच्चे को बचाया जा सकता है पोषक प्रशिक्षक के द्वारा मां को प्रश्न उत्तर की मैसेज के माध्यम से प्रश्नोत्तरी गतिविधि जिसमें मां के द्वारा उत्तर दिया गया जिस मा ने ठीक उत्तर दिया उन्हें गिफ्ट देकर प्रोत्साहित किया गया. 

इसी तरह निवास एनआरसी बिछिया नारायणगंज एवं नैनपुर अनारसिग में पोषक प्रशिक्षक के द्वारा गतिविधि की गई मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने जानकारी दी. जिला चिकित्सालय की पीएनसी वार्ड में स्तनपान हफ्ते की गतिविधि की गई मां एवं शिशु को रोलप्ले के माध्यम से स्तनपान कैसे कराएं? क्यों महत्वपूर्ण है माता की 1 स्तनपान एवं छह माह के बाद पोषण में मां को पोषक तत्व शामिल करना है रोल के माध्यम से मौजूद हितग्राहियों को जानकारी दी गई स्वच्छता भी बहुत महत्वपूर्ण है. मां बच्चे को दूध पिलाने के पहले नवजात को छूने से पहले हाथों को अच्छी तरह से साबुन एवं पानी से कितने स्टेट में हाथों को धोना है रोल प्ले करके दिखाया गया जिला चिकित्सालय स्टाफ के द्वारा स्तनपान के पिक्चर रंगोली तैयार की गई. रावतपुरा गवर्नमेंट इंस्टीट्यूट के विद्यार्थियों के द्वारा पोस्टर तैयार कर जन जागरूकता कार्यक्रम में चिकित्सक के आरसा के सिविल सर्जन डॉ विजय धुर्वे शिशु रोग जानकार चिकित्सक अंकित चौरसिया शिशु रोग जानकार श्रीमती सुलोचना रजक डिप्टी मीडिया श्रीमती निर्मला रिछारिया मेट्रन सिस्टर श्रीमती रश्मि पोषक प्रशिक्षक श्री अर्जुन सिंह आरबीएसके समन्वयक उमा जांघेला गंगोत्री दीपिका वैजयंती दुर्गा स्टाफ नर्स एवं हॉस्पिटल के कर्मचारी अधिकारी नर्सेज तथा हितग्राही मौजूद रहे.