राष्ट्रीय

2.5 साल के मुख्यमंत्री फॉर्मूले पर अनुभव साझा करते हुए डिप्टी सीएम ने कहा…

छत्तीसगढ़ के उपमुख्यमंत्री और कांग्रेस पार्टी नेता टीएस सिंह देव ने शुक्रवार को बोला कि सीएम पद पर निर्णय कांग्रेस पार्टी आलाकमान करेगा और सभी को स्वीकार्य होगा 2.5 वर्ष के सीएम फॉर्मूले पर अनुभव साझा करते हुए डिप्टी मुख्यमंत्री ने कहा, ‘पिछले पांच वर्ष में ढाई-ढाई वर्ष को लेकर हमारा अनुभव अच्छा नहीं रहा हमने सर्वसम्मति से फैसला लिया कि आलाकमान जो फैसला करेगा वही आखिरी होगा हम अटकलें

कांग्रेस गवर्नमेंट बनाएगी

टीएस सिंह देव ने यह भी बोला कि सीट शेयर में असली वोट शेयर का पता नहीं चलता जहां तक ​​आरोपों की बात है तो गंदी राजनीति प्रारम्भ हो गई है उन्होंने बोला कि महादेव ऐप में भी आप देख सकते हैं कि चुनाव से पहले बोला गया था कि 508 करोड़ रुपये बरामद हुए हैं मतदाता परिपक्व हो गए हैं…लोग इसे सियासी मानते हैं…इसलिए इसका असर नहीं हुआ है एग्जिट पोल के अनुमानों पर देव ने बोला कि उन्हें विश्वास है कि सबसे पुरानी पार्टी राज्य में सत्ता बरकरार रखेगी

इससे पहले इस वर्ष जून में, देव, जो स्वास्थ्य मंत्री के रूप में कार्यरत थे, को राज्य के उपमुख्यमंत्री के रूप में नियुक्त किया गया था जब कांग्रेस पार्टी 2018 में सत्ता में आई, तो देव सीएम पद की दौड़ में सबसे आगे थे, लेकिन भूपेश बघेल ने रेस में बाजी मार ली देव को कैबिनेट मंत्री बनाया गया दोनों नेताओं के बीच सत्ता को लेकर खींचतान की खबरें आई थीं

एग्जिट पोल के अनुमान

गुरुवार को आए एग्जिट पोल में छत्तीसगढ़ में कांग्रेस पार्टी और भाजपा के बीच कड़ी भिड़न्त की भविष्यवाणी की गई है हालांकि, कांग्रेस पार्टी को राज्य में बढ़त है इण्डिया टुडे-एक्सिस माई इण्डिया पोल में कांग्रेस पार्टी को 90 में से 40-50 सीटें और भाजपा को 36-46 सीटें मिलने का संभावना व्यक्त किया गया है एबीपी सी-वोटर ने कांग्रेस पार्टी को 41-53 सीटें और भाजपा को 36-48 सीटें मिलने का संभावना व्यक्त किया है रिपब्लिक टीवी के एग्जिट पोल में कांग्रेस पार्टी को 44-52 सीटें, भाजपा को 34-42 सीटें दी गईं; इण्डिया टीवी-सीएनएक्स पोल में कांग्रेस पार्टी को 46-56 सीटें और भाजपा को 30-40 सीटें मिलने का संभावना व्यक्त किया गया है

Related Articles

Back to top button