बिहारराष्ट्रीय

क्या वजह है की बच्चा शर्मा को लोग अब सेकेंड मोदी के नाम से जानने लगें

 

कहा जाता है कि दुनिया में एक जैसी शक्ल के सात लोग होते हैं रास्ते में चलते-फिरते कभी-कभार किसी आदमी से हमारी शक्ल मिल जाती है या फिर एक जैसा दिखने के कारण हम किसी को हाय-हैलो भी कह देते हैं ये सारी बातें हमारी आम जीवन का हिस्सा है लोगों के हमशक्ल का मिलना भले ही सामान्य बात हो लेकिन यदि बात राष्ट्र के पीएम की हो तो ये आम से खास अपने आप ही बन जाती है जी, हां! हम यहां बात कर रहे हैं हमारे पीएम मोदी के हमशक्ल बच्चा शर्मा के बारे में जो बिहार के सुपौल में त्रिवेणीगंज थाना क्षेत्र के महेशुआ पंचायत वार्ड नंबर- 6 के लक्ष्मीपुर गांव के रहने वाले हैं

 

इनकी शक्ल पीएम मोदी से काफी हद तक मिलती है और इसी वजह से ये काफी चर्चा में भी रहते हैं बच्चा शर्मा न सिर्फ़ अपने गांव में प्रसिद्ध है बल्कि इन्हें गांव के बाहर भी जाना जाता है बच्चा शर्मा की दूसरी सबसे बड़ी विशेषता ये है कि वो न सिर्फ़ पीएम की तरह दिखते हैं बल्कि उनके द्वारा राष्ट्र में चलाई जा रही स्वच्छता और दूसरे अभियानों को पूरा करने में हमेशा कोशिश करते रहते हैंयही वजह है कि लोग अब उन्हें सेकेंड मोदी के नाम से जानने लगे हैं

बच्चा शर्मा रोज सुबह होते ही अपने घर से निकल जाते हैं और पीएम मोदी की योजनाओं को साकार करने का भरपूर कोशिश करते हैं बच्चा शर्मा जी लोगों के घर-घर जाकर शौचालय और स्वच्छता अभियान से जुड़ी बातों के प्रति उन्हें सतर्क करते हैं और तो और उनकी बातों का लोगों पर इस कदर असर है कि वो इनका अनुसरण भी करते हैं इसके साथ ही गांववासियों को सरकारी योजनाओं की जानकारी देने का काम बच्चा शर्मा जी ही करते हैं

अपने गांव सहित आसपास के गांवों में होने वाली ग्रामीण स्तर के पंचायत में भी बच्चा शर्मा की अहम किरदार रही है आपको बता दें वो मुखिया का चुनाव भी लड़ चुके हैं बच्चा शर्मा पर मोदी जी का क्रेज इस कदर है कि वो उनकी विदेश यात्रा से लेकर हर एक बात से अवगत रहते हैं उनका बोलना है कि जब तक वो जिंदा है तब तक वो मोदी जी के जनहित से जुड़ी योजनाओं का लोगों के बीच इसी तरह प्रचार-प्रसार करते रहेंगे उनकी इन्हीं सारी बातों के चलते लोगों का उनको ‘सेकेंड मोदी’ के नाम से पुकारना सही है

Related Articles

Back to top button