गणतंत्र दिवस के मौके पर भीड़भाड़ वाले इलाके में किए गए सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त

गणतंत्र दिवस के मौके पर भीड़भाड़ वाले इलाके में किए गए सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त

एक माह से दिल्ली पुलिस और सुरक्षा एजेंसियां इस कवायद में जुटी हैं कि गणतंत्र दिवस के मौके पर दहशतगर्द दिल्ली में किसी भी वारदात को अंजाम न दे सकें. दिल्ली के सभी प्रमुख बाजारों, रेलवे-मेट्रो स्टेशनों, एयरपोर्ट, बस अड्डों, ऐतिहासिक व धार्मिक स्थलों सहित भीड़भाड़ वाले इलाके में सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त कर दिए गए हैं. 

राजपथ, लाल किला और परेड वाले कई जरूरी स्थानों को सुरक्षाबलों ने कब्जे में ले लिया है. दिल्ली की सभी सीमाओं पर चौकसी बढ़ा दी गई है. गणतंत्र दिवस से एक दिन पहले राजधानी में 50 हजार पुलिस कर्मियों और अर्धसैनिक बलों के जवान तैनात कर दिए जाएंगे.

राजधानी को 28 सेक्टरों में बांटकर इसका जिम्मा पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों को सौंपा गया है. परेड वाले मार्ग में विजय चौक से लाल किले तक 600 सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे. वीवीआइपी मूवमेंट के लिए व्यापक स्तर पर यातायात प्रबंधन किया जाएगा. लोगों को सुरक्षा के प्रति जागरूक करने के लिए आम लोगों के साथ बैठकें की जा रही हैं. पड़ोसी राज्यों की पुलिस के साथ दिल्ली पुलिस मीटिंग कर सूचनाओं का आदान-प्रदान कर रही है. सड़कों पर वाहनों की जाँच की जा रही है.

26 जनवरी को परेड विजय चौक से प्रारम्भ होकर लाल किले तक जाएगी. इसके तहत मुख्य आयोजन स्थल इंडिया गेट और परेड गुजरने वाले मार्गो सहित नयी दिल्ली क्षेत्र में सुरक्षा के खास बंदोबस्त किए जाएंगे. सभी भीड़भाड़ वाले स्थानों पर पुलिस और सुरक्षा बलों की तैनाती कर दी गई है. राजपथ- इंडिया गेट और आसपास के इलाके की सुरक्षा के लिए बहु स्तरीय सुरक्षा योजना तैयार की गई है. अंदर की सुरक्षा का जिम्मा जहां एसपीजी व एनएसजी पर होगा वहीं बाहर से दिल्ली पुलिस की सुरक्षा रहेगी.

परेड के दौरान कोई गड़बड़ी ना हो इसके लिए परेड गुजरने वाले प्रमुख मार्ग और ऊंची बिल्डिगों पर शार्प शूटर तैनात किए जाएंगे.

हवाई हमले को नाकाम करने के लिए एंटी एयरक्राफ्ट गन तैनात की जा रही हैं. गणतंत्र दिवस के दौरान आतंकवादी संगठन दहशत फैलाने के लिए भीड़भाड़ वाले मार्केट सहित मेट्रो स्टेशन, एयरपोर्ट अथवा धार्मिक और ऐतिहासिक स्थल को निशाना न बना सकें इसके लिए दिल्ली को अलर्ट पर दिया गया है.

इसके अतिरिक्त एयरपोर्ट पर भी सुरक्षा कड़ी कर दी गई है. एयरपोर्ट पर सीआईएसएफ की सर्विलांस टीम लगातार चौकसी बरत रही है क्योंकि एयरपोर्ट बेहद संवेदनशील स्थान है. वहां आने-जाने वाले लोगों पर विशेष नजर रखी जा रही है. एयरपोर्ट पर क्यूआरटी को लगातार गश्त करने को बोला गया है. अलावा कमांडो फोर्स को भी तैनात किया गया है. विस्फोटक और संदिग्ध चीजों की पहचान के लिए डॉग स्क्वायड टीम को अलर्ट रहने को बोला गया है. मेट्रो की सुरक्षा में चार अलावा कंपनियों को लगाया गया है.