नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने अंतर्राष्ट्रीय मनी लॉन्ड्रिंग रैकेट का यह बड़ा भांडा फोड़ा

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने अंतर्राष्ट्रीय मनी लॉन्ड्रिंग रैकेट का यह बड़ा भांडा फोड़ा

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने अंतर्राष्ट्रीय मनी लॉन्ड्रिंग रैकेट का भंडाफोड़ किया है. एनसीबी ने नाइजीरिया के तीन लोगों को हिरासत में लिया है, जो ड्रग्स कारोबार में भुगतान के लिए विभिन्न बैंकों के निष्क्रिय खातों का प्रयोग कर रहा था. 

आरोपियों से 255 ग्राम कोकेन, 350 ग्राम हेरोइन व 100 मेथामफेटामाइन जब्त किया है. इसके अतिरिक्त एक अमेरिकी व भारतीय नागरिक भी ब्यूरो के रडार पर है.
एनसीबी के दिल्ली जोन के निदेशक केपीएस मल्होत्रा ने बताया, आरोपी बटर नमानी (35), एजे एन बोनावेंचर (36) व केल्विन मानेसारी उर्फ बने को ब्यूरो ने बीते सप्ताह हिरासत में लिया था. इनमें से बेन ड्रग्स का प्रमुख विक्रेता था व हिंदुस्तान में बेल्जियम के पासपोर्ट पर रह रहा था. इसके अतिरिक्त एक भारतीय को भी एनसीबी ने पकड़ा, जो बेन से लगातार ड्रग्स खरीदता था.

उन्होंने बताया कि यह रैकेट मनी लॉन्ड्रिंग चैनल के जरिये बड़े पैमाने पर पैसा ट्रांसफर करने की फिराक में था. इन लोगों के पास कुछ निष्क्रिय खातों में पहुंच थी, जिनमें इस रकम को डाला जाता था. इन निष्क्रिय खातों से वे रकम नए खातों में भेजते थे.