मुस्लिम धर्मगुरु की सीएम योगी से धार्मिक स्थलों को खोलने की अपील, बोले...

मुस्लिम धर्मगुरु की सीएम योगी से धार्मिक स्थलों को खोलने की अपील, बोले...

लखनऊ पूरे यूपी में लॉकडाउन (Lockdown) खुलने के बाद जीवन रोजमर्रा की तरह चलने लगी है हालांकि अभी भी है Covid-19 प्रोटोकॉल का पालन किया जा रहा है इधर लॉकडाउन खुला है तो दूसरी तरफ अब धार्मिक स्थलों को भी खोले जाने की मांग की जाने लगी है इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया के चेयरमैन और वरिष्ठ धर्मगुरु मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने सीएम योगी आदित्यनाथ को चिट्ठी लिखते हुए धार्मिक स्थलों को खोले जाने की मांग की है

मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने सरकार से मांग करते हुए धार्मिक स्थलों को खोले जाने की अब आवश्यकता बताई है उन्होंने बोला कि अब मार्केट को खोलने की इजाजत मिल गई है और केवल इबादतगाहों पर ही पाबंदी लगाना उचित नहीं है इस सिलसिले में मैं सरकार की ओर से जो भी नियम और कानून बनाए जाएंगे, उस पर इबादतगाहों में पूरी तरह से अमल करने की लोगों से भी अपील करता हूं

मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने बोला कि तमाम धार्मिक लीडरों ने तमाम त्यौहारों के मौके पर Covid-19 प्रोटोकॉल पर पूरी तरह से अमल कराकर एक बेहतरीन उदाहरण पेश किया है रमजान और ईद जैसे तमाम मौकों पर भी मस्जिदों और इबादतगाहों में पूरी तरह से लॉकडाउन के नियमों पर अमल किया गया है मौलाना ने बोला कि कम से कम हर इबादत गाह की क्षमता के मुताबिक 50 परसेंट लोगों को जाने की इजाजत दी जाए, जिसमें मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग जरूरी हो

मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने बोला कि कोविड-19 वायरस की वजह से एक लंबे समय से लोग अपने घरों में रहने और इबादतगाहों में ना जाने की वजह से डिप्रेशन और मायूसी का शिकार हैं इससे बचाव के लिए महत्वपूर्ण है कि लोगों को इबादतगाहों में जाने की इजाजत दी जाए, जिससे उनके दिलों को शाँति हासिल हो सके मौलाना ने बोला कि कोविड-19 रोग के अंत के लिए सुरक्षा के तरीकों पर अमल करने के साथ-साथ दुआ और दवा दोनों महत्वपूर्ण है इसलिए जब लोग इबादत गांवों में जाकर दुआ करेंगे तो खुदा पाकिस्तान की रहमत से आशा है इस रोग से हमारे देश को जल्द से जल्द छुटकारा मिल सकेगा


पौष्टिक आहार, पढ़ाई और प्यार, बच्चों के लिए अत्यंत अनिवार्य: शालिनी गुप्ता,  बाल श्रम उन्मूलन दिवस पर पारहो में फूड न्यूट्रिशन किट का किया वितरण 

पौष्टिक आहार, पढ़ाई और प्यार, बच्चों के लिए अत्यंत अनिवार्य: शालिनी गुप्ता,  बाल श्रम उन्मूलन दिवस पर पारहो में फूड न्यूट्रिशन किट का किया वितरण 

कोडरमा। हम सबों को बाल अधिकार के बारे में समझने और उस अनुरूप कार्य की जरूरत है। वहीं देश के भविष्य यानि बच्चों के बारे में अभी से चिंता करना चाहिए। अच्छा वातावरण देने के साथ ही बच्चों को अच्छे भविष्य के लिए मार्गदर्शन देने की जरूरत है, पर शिक्षा के साथ ही बच्चों को पौष्टिक भोजन भी जरूरी है।

शनिवार को बाल श्रम उन्मूलन दिवस पर डोमचांच प्रखंड के पारहो स्थित मध्य विद्यालय परिसर में आयोजित फूड न्यूट्रिशन किट वितरण कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जिला परिषद की प्रधान शालिनी गुप्ता ने उक्त बातें कहीं। कार्यक्रम में कुपोषित बच्चों के लिए न्यूट्रिशन किट का वितरण किया तो वहीं 750 कीट से भरे वाहन को हरी झंडी दिखाकर जिप प्रधान शालिनी गुप्ता ने रवाना किया जिसमे 5 किलो चावल,1किलो  मसूर दाल,2 किलो चीनी, 1 किलो सूजी, 1 किलो चना, 50 ग्राम सोयाबीन, 500 ग्राम पोषण पाउडर, सवा किलो दलिया, 250 ग्राम बादाम, 250 ग्राम काजू, 1किलो ग्राउंड नट, 250 ग्राम किशमिश,500 ग्राम मिल्क पाउडर, और बिस्किट , सभी चीजें पर्याप्त मात्रा में तीन माह के लिए उपलब्ध थे। यह घूम घूम कर कुपोषित व ज़रूरतमन्दों के बीच फूड कीट उपलब्ध कराएगा। कोरोना काल के तीसरे लहर के पूर्व ही कुपोषित बच्चों पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है , इन्हें पौष्टिक आहार देकर कुपोष्णमुक्त किया जाना अत्यंत अनिवार्य है ताकि कोरोना के तीसरे लहर के चपेट से बच सके। अपने संबोधन में जिप प्रधान शालिनी गुप्ता ने कहा कि हैंड इन हैंड इंडिया ने बाल मजदूरी के खिलाफ जिम्मेवारी ली है, यह सराहनीय प्रयास है। इलाके की बेहतरी और अच्छे भविष्य के लिए यह जरूरी है कि बच्चे स्वस्थ हों।

उन्होंने उपस्थित लोगों से कोरोना को लेकर वैक्सिन जरूर लेने तथा अपने परिजनों को वैक्सिन दिलवाने पर बल दिया। उन्होंने कहा कि कोरोना से बचाव के लिए जरूरी है कि अधिक से अधिक लोग टीका लें और कोविड नियमों का पालन करें। कार्यक्रम को स्थानीय मुखिया सिकंदर साव और सीता देवी ने भी संबोधित किया। इस दौरान जिप प्रधान के साथ आजसू पार्टी के जिला उपाध्यक्ष विकास कुमार तथा हैंड इन हैंड इंडिया कोडरमा के रवि रंजन, त्रिलोक कर्ण, रूपेश कुमार, सविता देवी, रुखसार, सविता, शबनम खातून, छात्रधारी, साबिर अंसारी, सुधीर, बसंत, कौशल्या, गायत्री आदि मौजूद थे।


महंगाई को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार पर भड़की मायावती, बोलीं...       सीएम योगी का निर्देश, कोरोना संक्रमण को लेकर अभी भी रहें गंभीर       हाल कोडरमा अंचल कार्यालय का, आम आदमी का नहीं हो रहा है कोई काम,आरटीआई कार्यकर्ता ने एसीम को लिखा पत्र       युद्ध के लिए हम तैयार हैं, चीन की सेना PLA ने ताइवान को दी धमकी       धरती पर हैं चार नहीं, पांच महासागर? अंटार्कटिका के पास है कुछ सबसे अनोखा       OMG! इस प्रदेश में कुत्तों से अधिक खूंखार बिल्लियां, अभी तक इतने लोग हुए शिकार       पौष्टिक आहार, पढ़ाई और प्यार, बच्चों के लिए अत्यंत अनिवार्य: शालिनी गुप्ता,  बाल श्रम उन्मूलन दिवस पर पारहो में फूड न्यूट्रिशन किट का किया वितरण        Muslim Lawmaker Ilhan Omar ने US और Israel की तुलना तालिबान से कर डाली       दुनिया के सबसे शक्तिशाली राष्ट्राध्यक्षों की मुलाकात की तैयारियां पूरीं       अमेरिका में फेडरल जज बनने वाले पहले मुस्लिम बने जाहिद कुरैशी       70 दिन बाद कोविड-19 के सबसे कम केस, 24 घंटे में आए 84 हजार मामले, 4002 की मौत       कैसे डोनाल्ड ट्रंप को दी गई दवा कोविड-19 के मरीजों में जगा रही है उम्मीद?       PM मोदी से मुलाकात कर बहुत खुश हुए सीएम योगी, ट्वीट कर कही ये बड़ी बात       राजनाथ सिंह ने किया 'खामोश महामारी' का जिक्र, बोले...       अखिलेश यादव ने कहा कि बंदरबांट में उलझी बीजेपी सरकार से जनता को कोई आशा नहीं       रेलवे प्लेटफॉर्म के समीप कार्य कर रहे थे मजदूर, तभी गिरी जोरदार बिजली       प्रियंका गांधी ने कहा कि महंगाई आम जनमानस की तोड़ रही है कमर       रिहाई के बाद के 6 वर्ष तक लोकसभा चुनाव नहीं लड़ पाएगे लालू प्रसाद यादव       बिहार में 24 घंटे में मानसून की दस्तक       CM नीतीश ने इतने महीने में 6 करोड़ लोगों के टीकाकरण दिया टारगेट