हिंदुस्तान में कोरोना वायरस के कारण सरकार ने लिया यह बड़ा फैसला

हिंदुस्तान में कोरोना वायरस के कारण सरकार ने लिया यह बड़ा फैसला

कोरोना वायरस (coronavirus) का कहर चाइना के बाद सबसे अधिक इटली में हैं। ताजा रिपोर्ट के अनुसार इटली में सोमवार को कोरोना वायरस के चलते 349 लोगों की मृत्यु हो गई। 

इस वायरस के कारण इटली में अब तक 2,158 लोगों की मृत्यु हो चुकी है। आधिकारिक बयान के अनुसार इस देश में कोरोना वायरस दोगुनी तेजी से फैल रहा है। चार दिन पहले इटली में कोरोना के 15,113 मरीज थे, जो अब 27,980 हो गए हैं।

इधर, हिंदुस्तान में कोरोना वायरस के मुद्दे सोमवार शाम तक बढ़कर 114 हो गए हैं। ताजा मुद्दे ओडिशा, जम्‍मू-कश्‍मीर, लद्दाख व कश्‍मीर में देखने को मिले। संदिग्‍ध केसों में से 17 विदेशी हैं। कोरोना वायरस के प्रसार की रोकथाम के लिए हिंदुस्तान सरकार ने 16 मार्च को यूरोपीय संघ (EU), यूरोपीय फ्री ट्रेड एसोसिएशन, तुर्की व ब्रिटेन से आने वाली सभी फ्लाइटों पर पाबंदी लगा दी है। यह आदेश 18 मार्च से लेकर 31 मार्च तक प्रभावी रहेगा। उसके बाद स्थिति की समीक्षा की जाएगी व उसके आधार पर फैसला लिया जाएगा।

इसके साथ ही यूएई, कतर, ओमान व कुवैत से आने वाले यात्रियों को 14 दिनों के लिए जरूरी रूप से अलग आइसोलेशन में रखा जाएगा। दुनियाभर में इस वायरस की वजह से अब तक 7000 से अधिक लोगों की मृत्यु हो चुकी है।

महाराष्ट्र के पुणे में एहतियातन आज से सभी दुकान 3 दिन तक बंद रहेंगे। सिर्फ दूध, किराना व मेडिकल स्टोर्स ही खुले रहेंगे, जिससे डेली रूटीन ज्यादा प्रभावित ना हो।

इस भयावह खतरे से बचने के लिए लोगों से दूरी (Social Distancing) एकमात्र बचाव बताया जा रहा है। इससे इसके प्रसार में रोकथाम की जा सकेगी। नतीजतन एक व्‍यक्ति से दूसरे में संक्रमण को रोका जा सकेगा। इस लिहाज से केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय ने इसके रोकथाम के लिए राज्‍य सरकारों व केन्द्र शासित प्रदेशों एवं लोगों को 15 तरीका अपनाने की सलाह दी है।