मुर्गों की लड़ाई में गयी मालिक की जान, इस घटना को पढ़ कर आप हो जीतेंगे दंग

मुर्गों की लड़ाई में गयी मालिक की जान, इस  घटना को पढ़ कर आप हो जीतेंगे दंग

 देश के भिन्न-भिन्न हिस्सों में आयोजित होने वाले मुर्गों की लड़ाई (Cockfight) के बारे में आपने बहुत ज्यादा कुछ सुना होगा। इस खेल में कई बार मुर्गों की जान चली जाती है। लेकिन क्‍या आपने इस लड़ाई में मालिक की जान जाने की घटना सुनी है। 

कुछ ऐसा ही वाक्या पश्चिम बंगाल (West Bengal) के पुरुलिया (Purulia) जिले में हुआ। बताया जाता है मुर्गे की लड़ाई के दौरान 25 वर्ष के असीम महतौ की मृत्यु हो गई।

कैसे हुई मौत
पुलिस के मुताबिक, गांव में मुर्गों की लड़ाई का आयोजन किया गया था। इसी दौरान असीम महतो भी अपने मुर्गे के साथ वहां पहुंचा था। पास में ही खड़े हो कर वो अपने मुर्गे की हौसला आफजाई कर रहा था। उसका मुर्गा लड़ाई में जीत गया। जब असीम हारे हुए पक्ष का का मरा हुआ मुर्गा कंधे पर लटकाकर ले जा रहा था, उसी वक्त एक मुर्गे ने असीम के कंधे पर झूल रहे मरे मुर्गे पर आकस्मित हमला बोल दिया। बोला जा रहा है कि मुर्गे के पैरों में धारदार ब्लेड बंधा हुआ था, जिससे असीम के गले की नली कट गई। गंभीर हालत में उन्हें पुरुलिया के सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया, लेकिन अपस्पताल पहुंचते ही डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

गैरकानूनी आयोजन

पुलिस के मुताबिक, इन इलाके में अवैध ढंग से इस तरह के आयोजन किए जाते हैं। जीतने वाले को इनाम के तौर पर मरा हुआ मुर्गा दिया जाता है। बता दें कि इस वर्ष जनवरी में भी आंध्र प्रदेश से मुर्गे की लड़ाई में एक शख्स की मृत्यु की समाचार आई थी।