गोपालगंज में ट्रिपल हत्या के मुद्दे में आए तेजस्वी यादव अडिग, जाने मामला

गोपालगंज में ट्रिपल हत्या के मुद्दे में आए तेजस्वी यादव अडिग, जाने मामला

गोपालगंज में ट्रिपल हत्या के मुद्दे में तेजस्वी यादव अडिग हैं। शुक्रवार यानी आज तेजस्वी यादव आरजेडी के सभी विधायकों के साथ गोपालगंज कूच करने वाले थे। उनके साथ पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी भी गोपालगंज जा रही हैं लेकिन खबरें आ रही हैं कि तेजस्वी को गोपागंज जाने की प्रशासन से अनुमति नहीं  मिली है।  

वहीं, आज प्रातः काल से ही राबड़ी देवी के आवास के चारों तरफ पुलिस की पहरेदारी बढ़ा दी गई है। इस बीच कई नेताओं का राबड़ी देवी के आवास आने जाने का सिलसिला भी लगातार जारी है। आरजेडी विधायकों की गाड़ियां भी बैरिकेडिंग की ओर बढ़ने लगी है। इस बीच वीर तेजस्वी यादव के भी नारे लग रहे हैं।  

एसपी मौजूद
आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि तेजस्वी यादव की गाड़ी भी बैरिकेडिंग के अंदर खड़ी है। खुद एसपी विनय तिवारी समेत तमाम ऑफिसर भी मौके पर उपस्थित हैं। खुद पटना एसएसपी भी राबड़ी देवी के आवास पर पहुंच चुके हैं।  

सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जियां
इस सियासी भूचाल के बीच राबड़ी देवी के घर के बाद सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां भी खूब उड़ी है। समर्थन आवास पर जमकर नारेबाजी कर रहे हैं। नेताओं की अच्छी खासी भी मौके पर बिना सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किए गतिविधयों में व्यस्त है।

गोपालंगज कूच करने की तैयारी
गोपालगंज तिहरे हत्याकांड में पप्पू पांडेय की गिरफ्तारी की मांग को लेकर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने आरजेडी विधायकों के साथ शुक्रवार को गोपालगंज कूच करने का ऐलान किया था। इसके लिए बकायदा उन्होंने जिला प्रशासन से अनुमति भी मांगी थी लेकिन अब खबरें आ रही हैं कि तेजस्वी को अनुमति नहीं मिली है।  

गोपालगंज जाने के लिए अडिग हैं तेजस्वी
तेजस्वी यादव गोपालगंज तिहरे हत्याकांड को लेकर लगातार निशाना साध रहे हैं। उन्होंने यहां तक कि मुख्यमंत्री के कहने पर पुलिस द्वारा मुद्दे पर लीपापोती का आरोप भी लगाया है। साथ ही तेजस्वी यादव कई मौके पर बोल चुके हैं वो आरजेडी विधायकों के साथ सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए हर हाल में गोपालगंज जाएंगे।

क्या है मामला
आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि गोपालगंज में आरजेडी के नेता जेपी यादव व उनके परिवार पर जानलेवा हमला किया गया। इसमें जेपी यादव तो बच गए लेकिन उनके परिवार के चार सदस्यों की गोली मारकर मर्डर कर दी गई। इसे वर्चस्व का मुद्दा बताया जा रहा है। इस मुद्दे में कुचायकोट के जेडीयू विधायक अमरेंद्र कुमार पांडेय उर्फ पप्पू पांडेय, विधायक के बड़े भाई सतीश पांडेय और उनके पुत्र मुकेश पांडेय को नामजद आरोपी बनाया गया है। इस मुद्दे में पुलिस ने सतीश पांडेय व मकेश पांडेय को अरैस्ट कर लिया है।