मृत पिता के सपनों की साक्षी बनी पुत्री साक्षी को शालिनी गुप्ता का मिला सम्मान, बढ़ाया हौसला,  बेटियों की फौलादी क्षमता को आंक पाना असंभव :- शालिनी

मृत पिता के सपनों की साक्षी बनी पुत्री साक्षी को शालिनी गुप्ता का मिला सम्मान, बढ़ाया हौसला,   बेटियों की फौलादी क्षमता को आंक पाना असंभव :- शालिनी

कोडरमा/ कहा गया है जीवन एक संघर्ष है आसपास इसके अनेकों रूप आए दिन देखने को मिलते हैं। कुछ घटनाओं से जहां इंसान को टूटते देखा जाता है ठीक वही कुछ घटनाओं में लोगों के संघर्ष, लगन और आत्मविश्वास से अपनी जिंदगी को पूरी तरह खुशियों से भर लेते हैं। जो पूरे समाज के लिए एक बड़ी प्रेरणा बन जाती है। ठीक है ऐसा ही समाज के लिए एक बड़ी मिसाल कोडरमा जिला के झुमरीतिलैया शहर विशुनपुर रोड निवासी स्वर्गीय शैलेंद्र लाल और शशि सिन्हा की पुत्री साक्षी श्रीवास्तव ने जिंदगी के संघर्षों से ऊपर उठकर ना ही सिर्फ एक बड़ी उपलब्धि पाई, बल्कि अपने मृत पिता के सपनों को उनके चिता जलने के साथ ही साकार करते हुए समाज के लिए एक बड़ी प्रेरणा बनकर उभरी है।

पुत्री साक्षी श्रीवास्तव अपने पिता की मौत में शामिल न होकर उनके सपनों को साकार कर केनरा बैंक की पीओ बनते हुए एक बड़ी श्रद्धांजलि दी है। समाज में ही प्रेरणा बनी साक्षी के हौसला अफजाई के लिए निरंतर जन सेवा में तत्पर रहने वाली कोडरमा जीप प्रधान शालिनी गुप्ता ने अपने चिरपरिचित अंदाज में सारे काम को छोड़कर साक्षी के आवास पहुंची और एक भव्य सम्मान दिया और साथ ही उसके हौसलों को सातवें आसमान तक पहुंचाने को उत्साहित भी की।

शालिनी गुप्ता से  सम्मान पाकर साक्षी और भी भाव विभोर हो गई। जिप अध्यक्ष शालिनी गुप्ता ने अपने सामाजिक व राजनैतिक कर्तव्य को पूरा करते हुए अपने संबोधन में कहा पिता का साया नहीं रहने के बावजूद बेटियों की उपलब्धि अपने आप में पूरे समाज को गौरवान्वित करने वाली प्रेरणात्मक घटना है। यह उपलब्धि बेटियां बोझ है समाज के इस कुंठित सोच पर जोरदार तमाचा है।

लड़कियों को सिर्फ माता-पिता का सकारात्मक साथ आवश्यक है और वह दुनिया की हर नामुमकिन चीज को मुमकिन बनाने में सक्षम है। उन्होंने साक्षी और उनकी बहन की भूरी भूरी प्रशंसा करते हुए कहा कि जीवन के विपरीत समय में लड़ने के लिए हौसले से बड़ा कोई दूसरा हथियार नहीं होता। जिसे सच कर दिखाया है पिता की  गैरमौजूदगी में उनकी पुत्रियों ने।

बताते चलें कि 27 फरवरी को साक्षी के पिता का निधन हुआ था और वह पिता की जलती चिता को छोड़कर परीक्षा देने घर से निकल पड़ी थी और वह तब लौटी जब वह बैंक पीओ बन चुकी थी साथ ही अपने पिता के सपनों को साकार कर चुकी थी। साक्षी की बड़ी बहन स्नेहा श्रीवास्तव भी बैंक पीओ है। उनकी मां शशि सिन्हा को अपनी तीनों बेटियों पर गर्व है। पिता को मुखाग्नि छोटी बेटी ने दी थी। जीप अध्यक्ष द्वारा पुत्री साक्षी को सम्मानित करने के मौके पर साक्षी की बहन समृद्धि श्रीवास्तव, प्रीति सिन्हा, शैलेश कुमार, सोनू के अलावा अन्य लोग भी उपस्थित थे।


कोरोना पर सुप्रीम कोर्ट सख्त: सरकार को भेजा नोटिस, पूछा...

कोरोना पर सुप्रीम कोर्ट सख्त: सरकार को भेजा नोटिस, पूछा...

ई दिल्ली: देश में कोरोना से हालात हर दिन बिगड़ते जा रहे हैं। अब इस बीच सुप्रीम कोर्ट ने भारत में कोरोना वायरस के मौजूदा हालात पर स्वत: संज्ञान लिया है। देश की सर्वोच्च अदालत ने सुनवाई के बाद केंद्र सरकार को नोटिस भेजा है। सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से पूछा है कि कोरोना वायरस से निपटने के लिए नेशनल प्लान क्या है।

सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट को बताया कि देश को ऑक्सीजन की सख्त जरूरत है। सुप्रीम कोर्ट ने ऑक्सीजन की आपूर्ति और आवश्यक दवाओं के मुद्दे पर स्वत: संज्ञान लिया। सीजेआई एसए बोबडे ने कहा कि कि अदालत इस मामले की सुनवाई शुक्रवार को करेगी। कोर्ट ने हरीश साल्वे को एमिकस क्यूरी भी नियुक्त किया है।


Suzuki Hayabusa का नया अवतार इस दिनांक को होगा लॉन्च, मूल्य       Royal Enfield की इस सस्ती बाइक की मार्केट में धूम, बिक्री में पूरे 286 परसेंट की बढ़ोत्तरी       Ola Electric हिंदुस्तान में लगाएगा दुनिया का सबसे बड़ा चार्जिंग सेटअप       दमदार ड्राइविंग रेंज के साथ महज 18 मिनट में होगी चार्ज, Ola इलेक्ट्रिक स्कूटर जुलाई मे होगी लॉन्च       लीक हुई Mi 11X Pro और Mi 11X की कीमत       जानिए कैसा है 48MP कैमरे वाला यह स्मार्टफोन       WhatsApp यूजर्स के लिए चेतावनी! भूलकर भी नहीं करें ये गलतियां       Realme के 6000mAh बैटरी वाले फोन की मूल्य में कटौती       Apple ने हिंदुस्तान में लॉन्च किया iPad Pro, बढ़िया डिस्प्ले और 5G कनेक्टिविटी के साथ मिलेंगे कई खास फीचर्स       कार या बाइक चलाते समय नहीं कटवाना चाहते हैं Challan तो इन ऐप का करें इस्तेमाल       जोड़ों के दर्द या अर्थराइटिस की समस्या से आराम दिलाती है ब्रोकली       सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस के दर्द को दूर करने के कुछ आसान घरेलु उपाय       अगर कमजोर हो गयी है आपकी याददाश्त तो जरूर करें ये उपाय       गर्मियों में स्वस्थ रहने के लिए जरुरी है इन चीजों का सेवन       आखिर प्रेग्नेंसी में क्यों दी जाती है सूखा नारियल खाने की सलाह       क्या आप भी प्लान कर रहे हैं बच्चा तो आज से ही खाना शुरू कर दें ये चीजें       शायद आप नहीं जानते होंगे नाश्ते में अंडे खाने के ये जबरदस्त फायदे       दांतों को कमजोर बना सकती हैं ये चीजें, भूलकर भी ना करें इन चीजों का सेवन       गर्मियों में तरबूज का ज्यादा सेवन भी सेहत को पहुंचा सकता है नुकशान       गले के रोग को हल्के में न लें, लापरवाही बन सकती है इस बड़ी बीमारी की वजह