रतन टाटा ने ऑक्सीजन सप्लाई के लिए उठाया बड़ा कदम

रतन टाटा ने ऑक्सीजन सप्लाई के लिए उठाया बड़ा कदम

नई दिल्ली: कोरोना वायरस (Corona Virus) के मामले लगातार बढ़ने से स्वास्थ्य व्यवस्थाएं चरमराने लगी हैं। कई राज्यों में मरीजों के लिए बेड (Covid Bed) न मिलने और ऑक्सीजन (Oxygen) की कमी को लेकर शिकायतें आ रही हैं। इस बीच भारत के सफल उद्योगपति रतन टाटा (Ratan Tata) ने एक ऐसा काम किया है, जिसके लिए सोशल मीडिया (Social Media) पर उनकी खूब वाह-वाही हो रही है।

दरअसल, देश के कई हिस्सों में ऑक्सीजन (Oxygen) कमी को लेकर आ रही खबरों के बीच टाटा समूह (Tata Group) ने इस परेशानी को कम करने का जिम्मा उठाया है। टाटा ग्रुप ने लिक्विड ऑक्सीजन (Liquid Oxygen) की आवाजाही के लिए 24 क्रायोजेनिक कंटेनर्स (Cryogenic Containers) आयात करने का फैसला किया है। माना जा रहा है इस फैसले के बाद देश में ऑक्सीजन की कमी को दूर करने में मदद मिलेगी।

टाटा समूह ने इस बारे में जानकारी देते हुए अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से लिखा लिखा कि भारत के लोगों से पीएम मोदी की अपील प्रशंसनीय है और हम टाटा समूह में, COVID19 के खिलाफ लड़ाई को मजबूत करने के लिए यथासंभव प्रयास कर रहे हैं। ऑक्सीजन संकट को कम करने के लिए, यह स्वास्थ्य के बुनियादी ढांचे को बढ़ावा देने का एक प्रयास है।

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा कि टाटा समूह लिक्विड ऑक्सीजन (Liquid Oxygen) के परिवहन के लिए 24 क्रायोजेनिक कंटेनरों का आयात कर रहा है। आपको बता दें कि इससे एक दिन पहले ही टाटा स्टील ने ऐलान किया था कि वे राज्य सरकारों और हॉस्पिटल्स को रोजाना 200-300 टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन भेज रहे हैं।

सोशल मीडिया पर यूजर्स कर रहे खूब तारीफ
अब रतन टाटा के इस काम के लिए सोशल मीडिया पर उनकी तारीफों के पुल बंध गए हैं। सोशल मीडिया यूजर्स #ThisIsTata हैशटैग चलाते हुए उन्हें धन्यवाद दे रहे हैं। 


कोरोना वैक्सीन की पहली डोज के बाद हो जाए कोविड-19 तो डरे नहीं

कोरोना वैक्सीन की पहली डोज के बाद हो जाए कोविड-19 तो डरे नहीं

नई दिल्‍ली: कोविड-19 वायरस ( Covid-19 ) महामारी के शुरुआती दौर से ही इसकी पड़ताल जारी है लोगों को बचाने के लिए हिंदुस्तान और पूरे विश्व में लगातार अध्ययन हो रहे हैं जिनके नतीजे साइंस जर्नल और अन्य प्लेटफार्म पर प्रकाशित होते रहते हैं ऐसे में हाल ही में आई कुछ रिपोर्ट के अनुसार कोविड-19 वैक्सीन ( कोरोना वैक्सीन ) की पहली डोज लेने के बाद भी कुछ लोग कोविड-19 पॉजिटिव (Covid 19 Positive) हो रहे हैं मेडिकल एक्सपर्ट्स ने इसे ‘ब्रेकथ्रू केस’ नाम दिया है हालांकि अपने देश की बात करें तो इस मुद्दे में भारतीय लोग अधिक भाग्यशाली हैं क्योंकि हिंदुस्तान में ऐसे मुद्दे एकदम कम हैं  

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) की स्डटी के अनुसार हिंदुस्तान में इस तरह के ‘ब्रेकथ्रू केस’ का आंकड़ा केवल 0.05 परसेंट ही है वहीं केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार यदि वैक्सीन की पहला डोज लगने के बाद कोई संक्रमित हो जाता है तो इसका ये मतलब नहीं है कि वो दूसरी डोज नहीं ले सकता है ऐसे लोगों को केवल इस बात का ध्यान रखना होगा कि दूसरी डोज का अंतराल संक्रमण से ठीक यानी कोविड निगेटिव होने के बाद कम से कम चार से आठ सप्ताह के बीच होना चाहिए

 

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार ऐसे लोग जिनमें कोविड-19 संक्रमण के सक्रिय लक्षण हों या वो लोग जिनके शरीर में Covid-19 के विरूद्ध एंटीबॉडी हो उनके लिए दूसरी डोज लगवाने से पहले 4 से 8 सप्ताह का गैप महत्वपूर्ण है वहीं प्लाज्मा ले चुके लोगों के साथ अधिक बीमार या फिर दूसरी रोंगों से ग्रस्त लोगों के लिए भी वैक्सीन की दूसरी डोज लेने में एक महीने से दो महीने का गैप रखा जाना चाहिए

दरअसल एक्सपर्ट्स का मानना है कि वैक्सीन की कार्यप्रणाली का भी अपना प्रभाव होता है सभी की सुरक्षा लगातार और बेहतर होती रहे इस पर अध्ययन जारी है   वैक्सीन की पहली डोज लेने ते बाद भी यदि कोविड-19 संक्रमण हो जाए तो इसमें घबराने की आवश्यकता नहीं है


चीन ने जनसंख्या वृद्धि रोकने में हासिल की कामयाबी, लेकिन...       US सिक्योरिटी ने किए नष्ट, गोबर के उपले लेकर अमेरिका पहुंचा एक भारतीय शख्स       Italy की इस महिला को एक ही बार में लगे Pfizer Covid-19 Vaccine के 6 डोज       कोविड-19 वायरस के भारतीय स्ट्रेन को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने माना खतरनाक, कहा...       'इस्लाम को रियायत मिलने से फ्रांस को खतरा'       कोविड-19 वैक्सीनेशन को लेकर भारतीय प्रस्ताव के समर्थन में विश्व स्वास्थ्य संगठन , चीफ साइंटिस्ट ने कहा...       साइबर हमले के बाद अमरीकी फ्यूल पाइपलाइन जल्द हो सकती है शुरू       अमेरिका में 12 से 15 वर्ष तक के बच्चों को लगेगी वैक्सीन       विदेश मंत्रालय ने कहा कि ईरान के ऑफिसरों ने सऊदी के साथ द्विपक्षीय मुद्दों पर सीधी वार्ता की पुष्टि की       गाजा पर रॉकेट से हमला, 20 लोग मारे गए       भारत में Covid-19 की दूसरी लहर में हो रही मौतों से विश्व स्वास्थ्य संगठन चिंतित, कहा...       कोरोना वैक्सीन की पहली डोज के बाद हो जाए कोविड-19 तो डरे नहीं       बीते 24 घंटे में 3.29 लाख नए केस आए, 3876 मरीजों ने गंवाई जान       योगी सरकार के कोविड प्रबंधन का कायल हुआ डब्‍ल्‍यूएचओ       देश में अब तक 17.27 करोड़ से अधिक लोगों को लगी वैक्सीन       अफगानिस्तान में भारतीय राजनयिक विनेश कालरा का मृत्यु       जेपी नड्डा ने सोनिया गांधी को लिखी पांच पन्नों की चिट्ठी, कहा...       कोविड-19 मुद्दे में केन्द्र सरकार ने उच्चतम न्यायालय को दी अति उत्साह में निर्णय ना लेने की सलाह, कहा...       Ghazipur में गंगा नदी में दर्जनों लाशें दिखने से मचा हड़कंप       राहुल का प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी पर जोरदार हमला, कहा...